महाराष्ट्र: नासिक में बोले पीएम मोदी, कश्मीर पर पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं कांग्रेस नेता

महाराष्ट्र: उस्मानाबाद में चुनावी रैली के दौरान शिवसेना सांसद पर चाकू से हमला, हमलावर फरार

महाराष्ट्र: अकोला में बोले पीएम मोदी- आपका आशीर्वाद बना रहेगा तो मोदी नया-नया काम करता रहेगा

भीमा कोरेगांव मामले में SC ने गौतम नवलखा की गिरफ्तारी पर लगाई 4 हफ्ते तक रोक

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने जारी किया संकल्प पत्र, जानिए जनता से क्या किया वादा

मुंबई के अंधेरी इलाके में बहुमंजिला इमारत में लगी आग, 3 लोगों को निकाला गया, रेसक्यू ऑपरेशन जारी

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव: शिवसेना ने जारी किया घोषणा पत्र, 10 रुपए में गरीबों को भोजन देने की योजना

2019-09-19_pmModi.jpg

महाराष्ट्र के नासिक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फणडवीस की 'महाजनादेश यात्रा' के समापन अवसर पर एक रैली को संबोधित किया. इस दौरान उनके निशाने पर राज्य के विपक्षी दल कांग्रेस-एनसीपी के नेता रहे. मोदी ने अपने भाषण में कश्मीर के मुद्दे का खुलकर जिक्र किया. वहीं, महाराष्ट्र के विकास समेत प्रस्तावित केंद्र सरकार की योजनाओं को भी जनता के सामने रखा.

मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत करते हुए कहा कि आज छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज छत्रपति उदयन ने मेरे सिर पर एक छत्र रखा है. ये सम्मान भी है और छत्रपति शिवाजी महाराज के प्रति दायित्व का भी प्रतीक है. वह एक विशेष धन्यता अनुभव कर रहे हैं और इसे अपने जीवन का बहुमूल्य पल मानते हैं. एनसीपी नेता उदयन हाल में बीजेपी में शामिल हुए हैं.

पीएम मोदी ने कहा, जब लोकसभा चुनाव चरम पर था, तब मैं डिंडोरी में एक सभा करने आया था. उस सभा में ऐसा जनसैलाब उमड़ा था कि उसने पूरे देश में चल रही भाजपा की लहर को और प्रचंड बना दिया था. आज नासिक की ये रैली और भी आगे निकल गई है. इतना ज्यादा जनसैलाब आज उमड़ा है.

उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों में राजनीतिक अस्थिरता के कारण महाराष्ट्र जिस तेजी से आगे बढ़ना चाहिए था, उस तेजी से आगे नहीं बढ़ा. मुंबई महानगरी की चकाचौंध में महाराष्ट्र के दूर दराज के क्षेत्र, वहां के गरीब, किसान राजनीतिक अस्थिरता के शिकार हो गए.

मोदी ने कहा कि देवेंद्र फडणनवीस जी ने 5 वर्ष अखंड और अविरत साधना करके महाराष्ट्र की सेवा की और राज्य को नई दिशा दी. अब महाराष्ट्र की जिम्मेवारी है की फिर एक बार देवेंद्र जी के नेतृत्व में स्थिर राजनीति का फायदा उठाना चाहिए.



loading...