यूपी के बलिया में पीएम मोदी ने कहा- मैं भले ही पिछड़ी जाति में पैदा हुआ, लेकिन कभी जाति के नाम पर वोट नहीं मांगा

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में खूनी संघर्ष में बदला जमीनी विवाद, 9 की मौत, दर्जन भर से अधिक घायल

पूर्व सपा नेता अतीक अहमद के ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी, भारी पुलिसबल तैनात

अखिलेश सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति पर ED ने कसा शिकंजा, खनन घोटाला मामले में जेल में होगी पूछताछ

यूपी: साक्षी-अजितेश की शादी को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बताया वैध, पुलिस को सुरक्षा देने का दिया आदेश

इलाहाबाद हाईकोर्ट से अगवा किए गए प्रेमीजोड़े को यूपी पुलिस ने बदमाशों की गिरफ्त से छुड़ाया

अयोध्या राम जन्मभूमि मामले में सुप्रीम कोर्ट ने मध्‍यस्‍थता समिति से मांगी रिपोर्ट, 25 जुलाई को होगी अगली सुनवाई

2019-05-14_PmModi.jpg

लोकसभा 2019 के महासंग्राम के सातवें चरण के चक्रव्यूह को भेदने के लिए पीएम मोदी की जनसभाओं का रुख अब पूर्वांचल की ओर हो चला है. इसी क्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बलिया पहुंचे. पीएम मोदी बलिया ने जनसभा के मंच पर पहुंचकर भृगु बाबा की जय, बलिया और सलेमपुर के सभी लोगों को प्रणाम करके भाषण की शुरुआत की. इस दौरान चित्तु पांडेय, मंगलपांडेय, स्व. चंद्रशेखर को नमन किया. 

पीएम मोदी ने कहा कि सपा हो, बसपा हो या कांग्रेस सभी एक ही काम में जुट गए हैं कि मोदी को गाली दो. ऐसा कोई दिन नहीं है जब मोदी के लिए उनके मुंह से गाली नहीं निकली. इतने चरणों के चुनाव के बाद यह माहौल की बौखलाहट है. हार की हताशा साफ-साफ दिख रही है. मैं इनकी गालियों को उपहार मानता हूं.

पीएम मोदी ने कहा कि महामिलावटी लोग पूछ रहे हैं मोदी की जाति क्या है? मेरी जाति गरीब है. मैं तो माताओं-बहनों के सम्मान और गरीब के आत्मविश्वास को बढ़ाने के लिए खड़ा हूं. पीएम मोदी ने कहा कि इन महामिलावटी लोगों ने कैसी राजनीति की है, आप भली भांति जानते हैं. राजनीति के नाम पर अपने और अपने रिश्तेदारों के लिए बंगले खड़े किए. 

पीएम मोदी ने कहा कि नामी और बेनामी संपत्तियों का अंबार लगाया है. एजेंसियां इसका हिसाब ले रही हैं, यही कारण हैं कि पानी पी कर एक दूसरे को भद्दी भद्दी गालियां देने वाले एक दूसरे के साथ आने को मजबूर हो गए हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि अपनी मां को धुएं से और शौचालय न होने से महिलाओं को पीड़ा सहते देखा है. छत टपकते और गरीबों को परेशान होते देखा है. मिट्टी के तेल की डिबरी में पढ़ाई कितनी मुश्किल है, मुझे पता है. यही वह अनुभव थे जिन्होंने मुझे गरीबी के खिलाफ बगावत के लिए खड़ा किया है.
 
इसी प्रेरणा से महिलाओं को गैस कनेक्शन, बिजली कनेक्शन दिया जा रहा है. 2022 तक सभी गरीबों के पास अपना पक्का घर हो इसके लिए काम कर रहे हैं. यह मोदी है, यह चौकीदार है 2022 तक सभी को पक्का घर देकर ही सांस लेगा.

पीएम मोदी ने कहा कि सपा, बसपा या कांग्रेस को आतंक या पाकिस्तान पर एक बार भी बोलते सुना क्या? वह तो केवल आतंकियों का पक्ष लेते हैं और पाकिस्तान की हिमायत करते हैं. जो गली के गुंडों पर लगाम नहीं लगा सके वे पाकिस्तान पर क्या लगाम लगाएंगे. पहले की सरकार टूजी घोटाले में व्यस्त थी. हमने 4जी को गरीब तक पहुंचाया.



loading...