अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस: पीएम मोदी ने स्वच्छता की दूत कुंवर बाई को अर्पित की श्रद्धांजलि

भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की मुश्किलें बढ़ी, ब्रिटेन की अदालत ने 6 महंगी कारें बेचने का दिया आदेश

यूपी और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी का 93 साल की उम्र में निधन, दिल्ली के मैक्स हॉस्पिटल में ली आखिरी सांस

UIDAI ने 90 करोड़ लोगों को दी राहत, नहीं बंद होंगे आधार से जारी हुए मोबाइल नंबर

#MeToo के लपेटे में आए एमजे अकबर कोर्ट में नहीं हुए हाजिर, 31 अक्टूबर को दर्ज करायेंगे बयान

भारतीय नौसेना को मिली नई ताकत, अब गहरे पानी में भी कर सकेगी बचाव कार्य

पीएम मोदी की महत्वाकांक्षी बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए 1 साल में 1 हेक्टेयर जमीन का भी नहीं हुआ अधिग्रहण

2018-03-08_Modi_Kunwar.jpg

आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस है। इस मौके नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ की सामाजिक कार्यकर्ता कुंवर बाई को श्रद्धांजलि दी। कुंवर बाई को स्वच्छ भारत अभियान का प्रतीक बनाया गया था। कुंवर बाई ने शौचालय बनवाने के लिए अपनी बकरियों को बेच दिया था।

कुंवर बाई स्वच्छता की प्रेरणास्रोत बन गई थीं। घर में शौचालय बनवाने के लिए उन्होंने अपनी 8 बकरियों को बेचकर 22 हजार रु. जुटाए थे। इसके बाद वे पूरे देश में प्रसिद्ध हो गई थीं। धमतरी जिले की रहने वालीं कुंवर बाई का 106 साल की उम्र में निधन हो गया था।

मोदी ने किए ट्वीट: मैं हमेशा उस पल को याद करता रहूंगा, जब मुझे छत्तीसगढ़ दौरे में कुंवर बाई से आशीर्वाद लेने का मौका मिला। वे हमारे दिलों में जिंदा हैं। वे हमेशा गांधीजी के स्वच्छ भारत के सपने को पूरा करने में जुटी रहीं। #SheInspiresMe नाम से किए ट्वीट में मोदी ने कहा, "कुंवर बाई का 106 साल की उम्र में निधन हो गया था। पूरा छत्तीसगढ़ आपका सम्मान करता है। उन्होंने शौचालय बनवाने के लिए अपनी बकरियां बेच दीं। स्वच्छ भारत के लिए उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। उनके काम से मुझे काफी प्रेरणा मिली। कई महिलाओं ने मानव इतिहास के लिए बहुत योगदान दिया है। उनके इस काम से कई पीढ़ियों को प्रेरणा मिलेगी। मेरी आपसे अपील है कि जिन महिलाओं ने आपको प्रेरणा दी, उनके बारे में लिखें।

मोदी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर कुंवर बाई का एक वीडियो भी शेयर किया। मोदी ने कुंवर बाई को मां कहकर संबोधित किया था और पैर छुए थे।



loading...