PM मोदी ने नोटबंदी के समर्थन पर देशवासियों का किया शुक्रिया, राहुल ने जताया विरोध

2017-11-08_noteba84.jpg

आज केंद्र सरकार द्वारा लिए गए नोटबंदी के फैसले को पूरा एक वर्ष हो चुका है . पिछले वर्ष 8 नवंबर 2016 को सरकार ने भारतीय अर्थव्यवस्था में चल रहे 500 और 1000 के नोटों पर बैन लगा दिया था. इस मुद्दे पर एक ओर जहां सभी विपक्षी पार्टियां काला दिवस के तौर पर बना रही है तो वहीं बीजेपी नोटबंदी के फैसले को ऐतिहासिक बताते हुए बुधवार को एंटी ब्लैक मनी डे के रूप में मनाएगी.  

प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने ट्विटर पर लिखा है कि मैं भ्रष्टाचार और कालाधन को खत्म करने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों का समर्थन करने वाले भारतीयों के लिए तत्पर हूं.

नोटबंदी की बरसी पर विपक्ष के विरोध का जवाब देने के लिए भाजपा के कई वरिष्ठ मंत्री कई राज्यों में जाकर आम लोगों के सामने नोटबंदी से हुए फायदों को बतलाएंगे. गुजरात विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कई केन्द्र मंत्री गुजरात में होंगे. केन्द्रीय दूर संचार मंत्री मनोज सिन्हा ने बनारस और गाजीपुर का रुख किया तो नई दिल्ली में केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली मंगलवार से ही मोर्चा संभाले बैठे हैं.

वहीं, राहुल गांधी ने सरकार पर हमला बोलते हुए ट्विटर पर लिखा है नोटबंदी एक त्रासदी है, हम लाखों ईमानदार भारतीयों के साथ खड़े हैं, जिनके जीवन और आजीविका को प्रधानमंत्री के अविवेकी निर्णय ने बर्बाद कर दिया.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी नोटबंदी के फैसले पर कांग्रेस का साथ देती दिखी. उन्होंने कहा है कि यह बहुत बड़ा घोटाला है. मैं फिर कह रही हूं यह बहुत बड़ा घोटाला है. उन्होंने फेसबुक पर लिखा है कि अगर इसकी जांच कराई जाए तो सच्चाई सापने आ जाएगी.



loading...