ताज़ा खबर

भारत और पाकिस्तान के बीच फिर शुरू हुई पोस्टल सर्विस, पार्सल सेवाएं अभी भी प्रतिबंधित

नागरिकता संशोधन बिल बना कानून, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी

नागरिकता संसोधन विधेयक पर संजय राउत ने कहा- जिस स्कूल में आप पढ़ते हो, हम उसके हेडमास्टर रह चुके हैं

राज्यसभा live: नागरिकता संशोधन विधेयक पेश, गृह मंत्री अमित शाह बोले- किसी भी मुसलमान को चिंता की जरुरत नहीं, अल्पसंख्यकों को पूरी सुरक्षा मिलेगी

CAB: बीजेपी की संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी ने कहा- पाकिस्तान की भाषा बोल रही है कांग्रेस

आज राज्यसभा में नागरिकता संसोधन विधेयक पेश करेंगे गृह मंत्री अमित शाह, रणनीति बनाने में जुटी भाजपा

निर्भया कांड के दोषी अक्षय सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की पुनर्विचार याचिका, तिहाड़ में चल रही हैं फांसी की तैयारियां

2019-11-19_IndoPak.jpg

भारत और पाकिस्तान के बीच भारी तनाव के चलते बंद की गई पोस्टल सेवाओं को एक बार फिर से चालू कर दिया गया है, लेकिन पार्सल सेवाएं अभी भी प्रतिबंधित है. पाकिस्तानी मीडिया ने इस बात की जानकारी दी. आपको बता दें कि पाकिस्तान ने 27 अगस्त से भारत से किसी भी तरह की डाक की खेप को स्वीकार नहीं किया था. जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को हटाने के विरोध को लेकर पाकिस्तान ने यह कदम उठाया था.

पाकिस्तान द्वारा भारत को डाक के जरिए पत्र भेजने या भारत से आए पत्रों को स्वीकार करने से मना करने बाद भारतीय डाक अधिकारियों ने पाकिस्तान के पते वाली डाक को रोकने पर मजबूर होना पड़ा. रिपोर्टों में कहा गया है कि पाकिस्तान से भेजे गए पत्रों आदि को सऊदी अरब की एयरलाइंस द्वारा उपलब्ध कराई गई सेवाओं के जरिए भारत पहुंच रहे हैं. 

भारत ने पाकिस्तान के इस कदम को गैर जरूरी बताते हुए कहा था कि पूर्व में विभाजन, युद्ध या सीमापार तनाव होने पर भी डाक मेल सेवाओं को बंद नहीं किया गया. लेकिन हालिया वक्त में दोनों पड़ोसी मुल्कों के बीच तनाव अपने चरम पर हैं.


 



loading...