ताज़ा खबर

आतंकवादी बुरहान वानी को पाकिस्तान ने बताया फ्रीडम आइकॉन, जारी किया डाक टिकट

2018-09-21_BurhanWani.jpg

पाकिस्तान में राजनीतिक परिवर्तन हो चुका है और नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री इमराम खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर शांति वार्ता शुरू करने का प्रस्ताव दिया है. इन सबके बीच ऐसा लगता है कि पड़ोसी देश अपनी हरकतों से बाज नहीं आने वाला है. उसने एक बार फिर से भारत को उकसाने का काम किया है. दरअसल पाकिस्तान के डाक विभाग ने जम्मू और कश्मीर में मारे गए आतंकियों पर 20 डाक टिकट जारी किए हैं.

आतंकियों के अलावा दूसरे लोग भी शामिल हैं जिन्हें कि कश्मीर में भारतीय सेना द्वारा पीड़ित करार दिया गया है. डाक विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा हैं, कि इन टिकटों को कराची से जारी किया गया है. कराची में ही डाक विभाग का मुख्यालय है. उन्होंने बताया कि पाकिस्तान ने ऐसा भारतीय उत्पीड़न के खिलाफ जंग में खुद को कश्मीरियों के साथ दिखाने के लिए किया है.  

अधिकारी ने कहा कि इसके जरिए हमने कश्मीर के लोगों की समस्या को स्थानीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उठाने कि कोशिश की है. केवल इतना ही नहीं आतंकियों की तस्वीरों के नीचे कैप्शन लिखकर उन्हे शहीद घोषित करने की कोशिश भी पाकिस्तान ने की है। टिकटों पर लिखा है- केमिकल हथियारों का इस्तेमाल, पेलेट गन का इस्तेमाल, सामूहिक कब्र और बुरहान वानी फ्रीडम आइकॉन (1994-2016).

बुरहान वानी को उसके दो सहयोगियों के साथ सुरक्षा बलों ने 8 जुलाई, 2016 को अनंतनाग में एक मुठभेड़ में मार गिराया गया था. यह सभी 20 डाक टिकट ई-बे और दूसरी ऑनलाइन ट्रेडिंग वेबसाइट पर बिक्री के लिए मौजूद हैं. इन सभी टिकटों को कश्मीर कराची के टिकट संग्रह द्वारा शहीद दिवस के मौके पर जारी किया गया है. कश्मीर घाटी में पिछले कुछ सालों में मारे गए आतंकियों की तस्वीरों को डाक टिकट में जगह दी गई है. यह सभी टाक टिकट पाकिस्तान में 8 रुपये की कीमत पर मिल रहे हैं.



loading...