पद्मावत: उपद्रवियों ने 3 मॉल को बनाया निशाना, तोड़फोड़-आगजनी, पुलिस ने की हवाई फायरिंग, गुड़गांव में धारा 144

पुलवामा हमला: बॉलीवुड अभिनेता अजय देवगन का ऐलान, पाकिस्तान में रिलीज नहीं होगी ‘टोटल धमाल’

शादी के 2 महीने बाद ही प्रियंका चोपड़ा हुई प्रेग्नेंट, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही बेबी बंप वाली फोटो

पुलवामा हमले को लेकर भारतीय क्रिकेटर्स और बॉलीवुड सितारों में रोष, सोशल मीडिया के जरिए जताया अपना गुस्सा

बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान के चाहने वालों के लिए बड़ी खबर, कैंसर का इलाज कराने के बाद लौटे मुंबई, जल्द शुरू करेंगे शूटिंग

अक्षय कुमार की आने वाली फिल्म ‘केसरी’ का टीजर हुआ रिलीज, 10,000 अफगानियों पर भारी पड़े 21 भारतीय सिख जवान

बॉलीवुड एक्ट्रेस शबाना आजमी को हुआ स्वाइन फ्लू, इलाज के लिए हॉस्पिटल में हुईं भर्ती

2018-01-24_padmaavat-gujarat.jpg

फिल्म पद्मावत के खिलाफ गुजरात में फैली आग थमने का नाम नहीं ले रही है. करणी सेना की ओर से हो रहे प्रदर्शन की चपेट में मंगलवार रात गुजरात के कई मॉल्स आ गए, जहां करीब 150 बाइक और स्कूटरों को आग के हवाले कर दिया गया. अहमदाबाद पुलिस की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक दंगा फैलाने के आरोप में 48 को गिरफ्तार किया है और 4 एफआईआर दर्ज की है. इस बीच सीएम विजय रुपाणी ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की. यह भी पढ़ें :  'पद्मावत' बैन करने की याचिका खारिज, कालवी बोले- रिलीज नहीं होने देंगे पद्मावत, हालात बिगड़े तो भंसाली होंगे जिम्मेदार

प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार देर शाम पद्मावत का विरोध कर रहे उपद्रवियों ने मॉल में घुसकर जमकर तोड़फोड़ की. इस दौरान मॉल के बाहर खड़ी तकरीबन दो दर्जन मोटरसाइकल को आग के हवाले कर दिया गया. प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए पुलिस ने हवाई फायरिंग की. मॉल के मैनेजर राकेश मेहता ने कहा, ‘हमने मॉल के बाहर नोटिस बोर्ड लगाया था जिसमें लिखा था कि हम फिल्म को स्क्रीन पर प्रदर्शित नहीं करेंगे. इसके बावजूद लोगों ने मॉल पर हमला किया.’  यह भी पढ़ें : Video: फिल्म 'पद्मावत' के लिए दुआ मांगने सिद्धिविनायक मंदिर पहुंची दीपिका पादुकोण

फिल्म पद्मावत के प्रदर्शन के विरोध की आग अहमदाबाद, भोपाल से लेकर इलाहाबाद और कानपुर तक फैल चुकी है. करणी सेना और अखिल भारतीय क्षत्रिय सभा के उग्र आंदोलन को देखते हुए गुजरात के मल्टीप्लेक्सों ने फिल्म नहीं दिखाए जाने का फैसला किया था, इसके बावजूद प्रदर्शनकारियों ने अहमदाबाद के कई मल्टीप्लेक्सों को आग के हवाले किया और जमकर तोड़फोड़ की.

वहीं, गुड़गांव में फिल्म के रिलीज से पहले राजपूत करणी सेना की धमकी के मद्देनजर रविवार तक निषेधाज्ञा लगा दी गयी है. करणी सेना ने फिल्म की स्क्रीनिंग कर रहे सिनेमाघरों को निशाना बनाने की धमकी दी है. फिल्म का विरोध कर रहे संगठनों में सबसे मुखर करणी सेना का आरोप है कि फिल्म में ऐतिहासिक तथ्यों के साथ छेड़छाड़ की गयी है.

वहीं, कानपूर के काकादेव के सर्वोदय नगर इलाके में स्थित एक मॉल मल्टीप्लेक्स में करणी सेना के करीब एक दर्जन सदस्यों ने फिल्म पद्मावत के खिलाफ प्रदर्शन किया. काकादेव के थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह ने बताया कि करणी सेना के सदस्यों ने फिल्म के पोस्टर फाड़ दिये, शीशे तोड़े और वहां मल्टीप्लेक्स के कर्मचारियों के साथ अभद्रता की.

वहीं, श्री राजपूत करणी सेना के कार्यकताओं ने पटना के सिनोमाघरों को फिल्म ‘पद्मावत’ की एडवांस बुकिंग बंद करने पर मजबूर कर दिया है. पटना में करणी सेना के कार्यकर्ताओं के विरोध और धमकी के मद्देनजर सिनेमाघरों ने फिल्म की ऑनलाइन बुकिंग करनी बंद कर दी है.

मध्यप्रदेश में भी इस फिल्म का विरोध हुआ. वहां के राजपूत समाज ने जिला कलेक्टर कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया और अधिकारियों को अपनी मांगों के समर्थन एक ज्ञापन सौंपा.

,


loading...