निर्भया के दोषियों को जल्द हो सकती है फांसी, तिहाड़ जेल लाया गया चौथा आरोपी

ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर मेसियस बोलसोनारो पहुंचे दिल्ली, 26 जनवरी परेड में होंगे मुख्य अतिथि

Nirbhaya Case: दोषियों के वकील ने पटियाला हाउस कोर्ट में दायर की एक और याचिका, तिहाड़ जेल प्रशासन पर लगाए ये गंभीर आरोप

सुप्रीम कोर्ट ने टाटा-मिस्त्री मामले में एनसीएलएटी के आदेश पर लगाई रोक

राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेता बच्चों से मिले पीएम मोदी, बोले- आपके कार्यों से मुझे प्रेरणा मिलती है

Nirbhaya Case: दोषियों के परिवारवालों को तिहाड़ जेल प्रशासन ने लिखा पत्र, 1 फरवरी सुबह 6 बजे फांसी पर लटका देंगे

Delhi Election 2020: चुनाव प्रचार ने पकड़ी रफ्तार, आज अमित शाह, जेपी नड्डा और केजरीवाल-सिसोदिया की रैलियां

2019-12-10_NirbhayaCase.jpg

मंडोली जेल में बंद निर्भया केस के दोषी पवन को तिहाड़ जेल में शिफ्ट कर दिया गया है. अब राष्‍ट्रपति जैसे ही दया याचिका खारिज करेंगे, 15वें दिन दोषियों को सूली पर चढ़ा दिया जाएगा. राष्ट्पति के आदेश और फांसी देने में 14 दिन का अंतर होता है. इस बीच में कोर्ट से मृत्‍युदंड का ब्लैक वारंट यानी डेथ वारंट जारी कराने की प्रक्रिया की जाएगी. विनय के अलावा किसी अन्‍य दोषी ने दया याचिका नहीं डाली है. अब अगर बाकी दोषियों के वकील दया याचिका लगाते हैं तो यह कोर्ट पर निर्भर करता है कि वह क्‍या फैसला देगा. एक बात साफ है सभी चारों दोषियों अक्षय, पवन, मुकेश, विनय सभी का डेथ वारन्ट एक साथ जारी किया जाएगा.

जेल सूत्रों का कहना है कि हैदराबाद में सामूहिक दुष्कर्म के आरोपियों की मुठभेड़ में मारे जाने व इस घटना को लेकर देश में दुष्कर्म के दोषियों को तत्काल फांसी देने की मांग किए जाने से निर्भया के दोषियों में भी डर का माहौल है.

वहीं, तिहाड़ जेल के सूत्रों के मुताबिक, निर्भया के दोषियों को 16 दिसंबर को ही फांसी पर लटकाया जाएगा, जिस तारीख को यह वारदात हुई थी. इसलिए जल्द से जल्द पूरी प्रक्रिया पूरी करने की कोशिश की जा रही है.



loading...