गर्मी के कारण हरियाणा, राजस्थान और पश्चिमी यूपी में रेड अलर्ट, तापमान 44 डिग्री के पार

वाइस एडमिरल बिमल वर्मा की याचिका को रक्षा मंत्रालय ने किया खारिज, जानें क्या है मामला

कमल हासन ने ‘हिंदू’ शब्द को लेकर दिया विवादित बयान

सरकार के लिए विपक्ष की मोर्चेबंदी, राहुल गांधी से मिले नायडू, शाम को लखनऊ में अखिलेश-मायावती से करेंगे मुलाकात

लोकसभा चुनाव: PM मोदी और अमित शाह को मिली क्लीनचिट से नाराज चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने EC की मीटिंग से किया किनारा

PM मोदी की 5 साल में पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा- फिर बनेगी पूर्ण बहुमत वाली NDA की सरकार

साध्‍वी प्रज्ञा के नाथूराम गोडसे वाले बयान पर पीएम मोदी ने कहा- दिल से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा, अनिल सौमित्र को पार्टी से निलंबित किया

2018-05-24_heat.jpg

उत्तर और मध्य भारत में इस [सप्ताह|हफ्ते} गर्मी से राहत मिलने की कोई उम्मीद नहीं है. मौसम विभाग ने आगामी 27 मई तक तापमान में कोई गिरावट नहीं होने की संभावना के मद्देनजर गर्मी की तपिश के बरकरार रहने की आशंका जताई है.

मौसम विभाग ने हरियाणा, राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 27 मई तक गर्मी की अधिकता के लिहाज से सर्वाधिक तीव्रता वाला लाल अलर्ट जारी किया है. जबकि उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के विदर्भ के लिए अधिक गर्मी वाला गहरे पीले रंग का अलर्ट जारी किया है. 

मौसम विभाग द्वारा जारी किए जाने वाले चार रंग के अलर्ट के तहत लाल रंग का अलर्ट जारी होने पर सरकारी एजेंसियों को जरूरी कार्यवाही करने की अनिवार्यता का पालन करना होता है, जबकि गहरे पीले रंग का अलर्ट जारी होने पर संबद्ध एजेंसियों को मौसम की गंभीरता को देखते हुए कार्यवाही के लिए तत्पर रहना होता है. वहीं हरे रंग का अलर्ट जारी होने पर कोई कार्यवाही करने की जरूरत नहीं होती है और पीले रंग के अलर्ट पर हालात पर निगरानी रखना जरूरी होता है.

मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी राजस्थान, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली के अधिकांश इलाकों में और पश्चिमी मध्यप्रदेश, विदर्भ, पंजाब, और पूर्वी राजस्थान के कुछ इलाकों में गुरुवार को भी लू के थपेड़ों के साथ गर्मी का प्रकोप बढ़ने का अनुमान है. जबकि उत्तरी गुजरात, सौराष्ट्र, कच्छ, पूर्वी मध्यप्रदेश, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में एक दो स्थानों पर गर्मी का असर कल भी बरकरार रहने की [आशंका|उम्मीद} है.



loading...