ताज़ा खबर

त्रिपुरा के राज्यपाल का विवादित बयान- सुबह 4.30 बजे लाउडस्पीकर से होने वाली अजान पर चुप्पी क्यों?

त्रिपुरा में सरकारी फरमान, मीटिंग के दौरान जींस, कार्गो पैंट और डेनिम शर्ट न पहनें अधिकारी

असम NRC मामले के बाद अब त्रिपुरा के सीएम के जन्मस्थान को लेकर बवाल, बिप्लब देब ने कहा- मैं भारतीय हूं

ऐश्वर्या मिस वर्ल्ड बनीं तो ठीक, पर डायना का बनना समझ से परे: त्रिपुरा के सीएम

त्रिपुरा: विधानसभा में गाया गया पहली बार राष्ट्रगान, CPM विधायक ने कहा- पहले हमसे नहीं की गई बात

त्रिपुरा: बिप्लब देब बनेंगे त्रिपुरा के सीएम, जिष्णु देब वर्मा होंगे उपमुख्यमंत्री

त्रिपुरा: BJP समर्थकों का हंगामा, लेनिन की मूर्ति गिराई, राजनाथ ने गवर्नर से सरकार बनने तक हालात पर नजर रखने को कहा

2017-10-18_tripurag54.jpg

त्योहारों के दिनों में त्रिपुरा के गवर्नर तथागत रॉय अपनी टिप्पणी को लेकर फिर चर्चा में हैं. रॉय ने दिवाली के अवसर पर पटाखों पर बैन और ध्वनि प्रदूषण की बात करने वालों को निशाने पर लिया है. उन्होंने रोज सुबह होने वाली अजान को लेकर लोगों की चुप्पी पर भी सवाल उठाया है.

जानकारी के मुताबिक , तथागत रॉय ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए. उन्होंने लिखा कि दिवाली पर पटाखों से होने वाले प्रदूषण को लेकर लड़ाई शुरू हो जाती है. लेकिन कोई भी सुबह 4.30 बजे लाउडस्पीकर से होने वाली अजान पर नहीं लड़ता.

उनका अगला ट्वीट है कि सेकुलर भीड़ की अजान पर चुप्पी ने मुझे व्याकुल कर दिया है. कुरान या हदीस में लाउडस्पीकर का कोई जिक्र नहीं किया गया है. मुअज्जिन को मीनार से अजान लगानी चाहिए, इसलिए तो मीनार बनाई जाती है. लाउडस्पीकर का इस्तेमाल , इस्लाम के खिलाफ है.

बता दें कि तथागत रॉय अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहे हैं. हाल में उन्होंने सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की खरीद-बिक्री पर बैन के फैसले पर नाखुशी जाहिर की थी. उन्होंने कहा था कि जल्द ही अवार्ड वापसी गैंग हिंदुओं की चिता जलने पर कोर्ट में याचिका डाल दे.



loading...