बिहार में नहीं थम रहा चमकी बुखार का कहर, मुजफ्फरपुर में अब तक 131 बच्चों की मौत, स्वास्थ्य हालात पर आज रिपोर्ट जारी करेगा निति आयोग

2019-06-25_ChamkiFeverBihar.jpg

बिहार के मुजफ्फरपुर में इस वक्त चमकी बुखार से हाहाकार मचा हुआ है. चमकी बुखार से बच्चों की मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. चमकी बुखार के चलते अब तक 160 से ज्यादा बच्चों की मौत हो गई है. इस बीच खबर आ रही है कि नीति आयोग स्वास्थ्य क्षेत्र के मोर्चे पर राज्यों में हुई प्रगति को लेकर एक रिपोर्ट जारी करेगा.

 नीति आयोग आज दोपहर 12:30 बजे राज्यों में स्वास्थ्य की हालत को लेकर अपनी रिपोर्ट जारी करेगा. इस रिपोर्ट में नीति आयोग साल 2016-17 और 17-18 में स्वास्थ्य के मोर्चे पर राज्यों में कितनी प्रगति हुई है, इस बात का लेखा-जोखा जारी करेगा. नीति आयोग के वाइस चेयरमैन राजीव कुमार और सीईओ अमिताभ कांत इस रिपोर्ट को जारी करेंगे.

इससे पहले इस मामले में मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और बिहार सरकार को 7 दिनों के अंदर एफिडेविट दाखिल कर जवाब देने के लिए कहा है. दरअसल चमकी बुखार के मामले में सरकार के लापरवाही भरे रवैये को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी. इस याचिका में राज्य सरकार पर लापरवाही के आरोप लगाने के साथ-साथ अस्पतालों में उचित इंतजामों की मांग की गई थी. सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सरकार से जवाब मांगा है.

आपको बता दें, बिहार के मुजफ्फरपुर में 131 बच्चों की मौत के पीछे की वजहों को लेकर चिकित्सक एकमत नहीं हैं. कुछ चिकित्सकों का मानना है कि इस साल बिहार में फिलहाल बारिश नहीं हुई है, जिससे बच्चों के बीमार होने की संख्या लगातार बढ़ रही है. बच्चों के बीमार होने के पीछे लीची कनेक्शन को भी देखा जा रहा है.



loading...