निर्भया कांड के दोषी अक्षय सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की पुनर्विचार याचिका, तिहाड़ में चल रही हैं फांसी की तैयारियां

ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर मेसियस बोलसोनारो पहुंचे दिल्ली, 26 जनवरी परेड में होंगे मुख्य अतिथि

सुप्रीम कोर्ट का दिल्ली में रासुका लागू करने के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई से इनकार

Nirbhaya Case: दोषियों के वकील ने पटियाला हाउस कोर्ट में दायर की एक और याचिका, तिहाड़ जेल प्रशासन पर लगाए ये गंभीर आरोप

सुप्रीम कोर्ट ने टाटा-मिस्त्री मामले में एनसीएलएटी के आदेश पर लगाई रोक

राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेता बच्चों से मिले पीएम मोदी, बोले- आपके कार्यों से मुझे प्रेरणा मिलती है

Nirbhaya Case: दोषियों के परिवारवालों को तिहाड़ जेल प्रशासन ने लिखा पत्र, 1 फरवरी सुबह 6 बजे फांसी पर लटका देंगे

2019-12-10_Akshykumar.jpg

निर्भया कांड के एक दोषी अक्षय कुमार सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में फांसी की सजा को लेकर पुनर्विचार याचिका दायर की है. गौरतलब है कि अन्य आरोपियों की तरह ही ट्रायल कोर्ट ने अक्षय को भी फांसी की सजा सुनाई थी. जिसे दिल्ली हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने भी बरकरार रखा.

अक्षय से पहले विनय शर्मा राष्ट्रपति के पास अपनी दया याचिका भेज चुका है जो खारिज कर दी गई है. राष्ट्रपति से दया याचिका खारिज होने के बाद याचिका पर हुए निर्णय को लेकर तिहाड़ प्रशासन को पटियाला कोर्ट जाना होता है. दोषी का ब्लैक वारंट (जिसे डेथ वारंट भी कहते हैं) कोर्ट से जारी होगा.

दया याचिका सिर्फ विनय शर्मा ने लगाई थी. अदालत तय करना था कि अन्य दोषी अक्षय, पवन, मुकेश दोबारा दया याचिका दे सकेंगे या नहीं? राष्ट्रपति पर निर्भर करता है कि वे कब डेथ वारंट निकालते हैं. हालांकि इस बीच अक्षय की पुनर्विचार याचिका से मामला फिर फंस गया है.

आपको बता दें कि अभी तक चारों दोषियों के डेथ वारंट जारी नहीं हुए हैं, लेकिन बताया जा रहा है कि इन पर किसी भी वक्त साइन हो सकते हैं. निर्भया के चार दोषियों में से एक पवन को मंडोली की जेल नंबर-14 से तिहाड़ की जेल नंबर-2 में शिफ्ट कर दिया गया है. इसी जेल में निर्भया के चार दोषियों में से दो अक्षय और मुकेश भी बंद हैं.
 



loading...