तमिलनाडु: जंगल में लगी आग में मरनावालों की संख्या बढ़कर 9 हुई, 27 को बचाया गया

2018-03-12_Nine-Trekkers-Dead.jpeg

तमिलनाडु के थेनी जिले में कुरांगनी पहाड़ के वन में लगी आग में नौ ट्रैकर्स की मौत हो गई है. इसमें चार महिलाएं, चार पुरुष और एक बच्चा शामिल है. राज्य सरकार ने भी इनकी मौत की पुष्टि कर दी है. इस आग में फंसे 27 लगों को बचा लिया गया है, जिसमें से आठ लोग बुरी तरह झुलस गए हैं. दस अन्य लोग झुलसने से मामूली घायल हुए हैं. कुरांगनी पहाड़ के वन में अचानक आग लग जाने से एक पर्वतारोहण प्रशिक्षण शिविर में करीब 36 पर्वतारोही फंस गए थे जिनमें ज्यादातर महिलाएं थीं.

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के निर्देश पर दो हेलीकॉप्टरों को भेजा गया था. मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने मदद के लिए रक्षा मंत्री से संपर्क किया था. थेनी की जिला अधिकारी मरियम पल्लवी बलदेव ने बताया कि हेलीकॉप्टरों ने इलाके का सर्वेक्षण किया और रात में मदुरै लौट गए.

मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने फंसे हुए लोगों को बचाने के लिए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से संपर्क किया था और रक्षा मंत्री थेनी के जिलाधिकारी के संपर्क में हैं. उधर, सीतारमन ने कई ट्वीट कर बतायाथा कि कोयंबटूर के समीप वायुसेना के सुलुर अड्डे से दो हेलीकॉप्टर बचाव अभियान में सहायता पहुंचाने के लिए भेजे जा रहे हैं.

उन्होंने कहा था, ‘‘ कुरांगनी में 20 विद्यार्थियों के जंगल में आग में फंसे होने के मुद्दे पर तमिलनाडु के माननीय मुख्यमंत्री के अनुरोध पर हमने वायुसेना को बचाव में मदद का निर्देश दिया है.’’ रविवार शाम करीब सात बजे सीतारमण ने ट्वीट किया कि उनकी थेनी के जिलाधिकारी से बात हुई है और उन्होंने बताया कि10-15 बच्चे पहाड़ से नीचे आ रहे हैं. उन्होंने जिलाधिकारी के हवाले से बताया कि एक मेडिकल टीम भी मौके पर भेजी गयी है और समीप के चाय बागान के कर्मचारी भी बचाव अभियान में मदद कर रहे हैं.



loading...