झारखंड में नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में किया विस्फोट, 6 जवान शहीद, 4 घायल

झारखंड के पलामू में पीएम मोदी ने कहा- हमारी सरकार के लिए किसान अन्नदाता, कांग्रेस के लिए सिर्फ वोट बैंक

सीएम नीतीश कुमार को झारखंड में बड़ा झटका, जेडीयू प्रदेश अध्यक्ष जलेश्वर महतो ने थामा कांग्रेस का हाथ

झारखंड के चाईबासा में पंचायत का तुगलकी फरमान, रेप पीड़िता और आरोपी को जिंदा जला दो

झारखंड के मेदिनीनगर में रेल ट्रैक पार करते समय बच्चे को बचाने के लिए मां ने दोनों पैर गवाए, हालत नाजुक

भाजपा सांसद निशिकांत दुबे के भरी सभा में कार्यकर्ता ने पैर धोकर गन्दा पानी पिया, विडियो वायरल

रांची में बुराड़ी जैसी घटना, एक ही परिवार के 7 लोगों ने खुदकुशी कर दी जान

2018-06-27_jharkhandnaxalattack.jpg

झारखंड के गढ़वा जिले में मंगलवार को नक्सलियों के बारूदी सुरंग में विस्फोट कर किए गए हमले में जगुआर फोर्स के छह जवान शहीद हो गए, जबकि पांच घायल हैं. पुलिस के मुताबिक झारखंड जगुआर के 112 बटालियन के जवान अभियान पर निकले थे. जब वह देर शाम बूढ़ापहाड़ से उतर रहे थे, तभी नक्सलियों ने आईडी के जरिए ब्लास्ट कर दिया.

ब्लास्ट के साथ ही नक्सलियों ने जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग भी की. इसमें छह जवान शहीद हो गए. जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की. बताया जा रहा है कि देर शाम तक नक्सलियों और जवानों के बीच मुठभेड़ जारी थी. अतिरिक्त सुरक्षा बल मौके पर भेजे गए हैं. झारखंड जगुआर फोर्स राज्य पुलिस का विशेष सुरक्षा बल है.

आपको बता दें कि इससे पहले छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में तीन लाख रुपये की इनामी महिला नक्सली ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है. कोंडागांव जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बयानार एलओएस की सदस्य बिसन्ती नेताम उर्फ जानो ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नक्सली पर तीन लाख रुपये का ईनाम घोषित था. उन्होंने बताया कि नक्सली बिसन्ती ने राज्य शासन के पुनर्वास और आत्मसमर्पण नीति से प्रभावित होकर यह कदम उठाया है. कोंडागांव जिले में इस महीने की 23 तारीख को नक्सली डिप्टी कमांडर ने आत्मसमर्पण किया था. उस पर भी 3 लाख रुपये का इनाम घोषित था.



loading...