झारखंड में नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में किया विस्फोट, 6 जवान शहीद, 4 घायल

स्वामी अग्निवेश को लेकर झारखंड मंत्री सीपी सिंह ने कहा- 'स्वामी नहीं फ्रॉड हैं अग्निवेश, विदेशी चंदे पर होता है गुजारा

झारखंड: BJP युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं ने स्वामी अग्निवेश को पीटा, फाड़े कपड़े

झारखंड में मानसून ने पकड़ी रफ्तार, बिजली गिरने से 6 की मौत, बंगाल, मुंबई में भी जोरदार बारिश

झारखंड: मानव तस्कररी के खिलाफ जागरूकता फैला रहीं 5 लड़कियों से गैंगरेप, पुलिस में मामला दर्ज

महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी ने माँगा गन का लाइसेंस, कहा- घर में अकेली रहती हूं, जान को खतरा रहता है

झारखंड: 1.47‌ लाख करोड़ के 2000 के ‌नोटों की जमाखोरी; बैंक से निकाले, लेकिन 70% वापस नहीं आए

2018-06-27_jharkhandnaxalattack.jpg

झारखंड के गढ़वा जिले में मंगलवार को नक्सलियों के बारूदी सुरंग में विस्फोट कर किए गए हमले में जगुआर फोर्स के छह जवान शहीद हो गए, जबकि पांच घायल हैं. पुलिस के मुताबिक झारखंड जगुआर के 112 बटालियन के जवान अभियान पर निकले थे. जब वह देर शाम बूढ़ापहाड़ से उतर रहे थे, तभी नक्सलियों ने आईडी के जरिए ब्लास्ट कर दिया.

ब्लास्ट के साथ ही नक्सलियों ने जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग भी की. इसमें छह जवान शहीद हो गए. जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की. बताया जा रहा है कि देर शाम तक नक्सलियों और जवानों के बीच मुठभेड़ जारी थी. अतिरिक्त सुरक्षा बल मौके पर भेजे गए हैं. झारखंड जगुआर फोर्स राज्य पुलिस का विशेष सुरक्षा बल है.

आपको बता दें कि इससे पहले छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में तीन लाख रुपये की इनामी महिला नक्सली ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है. कोंडागांव जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बयानार एलओएस की सदस्य बिसन्ती नेताम उर्फ जानो ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नक्सली पर तीन लाख रुपये का ईनाम घोषित था. उन्होंने बताया कि नक्सली बिसन्ती ने राज्य शासन के पुनर्वास और आत्मसमर्पण नीति से प्रभावित होकर यह कदम उठाया है. कोंडागांव जिले में इस महीने की 23 तारीख को नक्सली डिप्टी कमांडर ने आत्मसमर्पण किया था. उस पर भी 3 लाख रुपये का इनाम घोषित था.



loading...