ताज़ा खबर

खतरे में कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू की आवाज, डॉक्टरों ने दी आराम की नसीहत

1984 सिख दंगों में दोषी कांग्रेसी नेता सज्जन कुमार को उम्रकैद की सजा, पंजाब सरकार ने की फैसले की तारीफ

बैकफूट पर नवजोत सिंह सिद्धू, कहा- गंदी राजनीति खेलनी मुझे नहीं आती, कैप्टन मेरे पिता समान खुद ही निपट लूंगा

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने रखी करतारपुर साहिब कॉरिडोर की आधारशिला, सीएम अमरिंदर सिंह ने पाक को दी चेतावनी

आज उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू रखेंगे करतारपुर साहिब कॉरिडोर की आधारशिला, करीब आएंगे भारत-पाकिस्तान!

अमृतसर हमला: निरंकारी भवन पर हमला करने वाला दूसरा आतंकी गिरफ्तार, पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार किए बरामद

पंजाब में हाई अलर्ट जारी, पठानकोट में सेना की वर्दी में दिखे 2 संदिग्ध आतंकी, सर्च ऑपरेशन जारी

2018-12-06_Siddhu.jpg

नवजोत सिद्धू के लाखों चाहने वालों के लिए बुरी खबर है. दरअसल, डॉक्टरों ने मंत्री की आवाज को खतरा बताया है, साथ ही एक कड़ी नसीहत दे दी है. डॉक्टरों ने सिद्धू को 5 दिन पूरा आराम करने को कहा है. अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया तो वह बोलने की शक्ति खो सकते है. बताया जा है कि फ़िलहाल उन्हें सांस लेने के लिए अभ्यास करवाया जा रहा है. फिजियोथेरेपी के साथ विशेष दवाएं दी जा रही हैं.

आपको बता दें कि नवजोत सिद्धू 17 दिवसीय चुनाव अभियान पर थे. तेलंगाना में उन्होंने कांग्रेस के समर्थन में कई सभाएं की. उन्होंने 70 से अधिक सार्वजनिक बैठकों में लोगों को संबोधित किया. इस दौरान लगातार भाषण देने के कारण उनकी आवाज को काफी नुकसान पहुंचा. चेकअप कराने पर डॉक्टरों ने उन्हें बताया कि मामला बहुत गंभीर है. वह अपनी आवाज खोने के कगार पर थे. इसलिए डॉक्टरों ने उनको 3 से 5 दिन तक पूरा आराम करने का सुझाव दिया है.

कुछ साल पहले बहुत ज्यादा विमान यात्राओं की वजह से सिद्धू डीवीटी (डीप वीन थ्रोम्बोसिस) का शिकार हुए थे. उनका इलाज किया गया था. इस वजह से लगातार हेलीकॉप्टर और विमान यात्राएं उनकी सेहत के लिए नुकसानदेह रही हैं. इसके अनुसार, सिद्धू की रक्त जांच की गई हैं और वह पूरी तरह जांच तथा स्वास्थ्य लाभ के लिए अज्ञात स्थान पर चले गए हैं. उन्हें प्राणायाम और फिजियोथैरेपी के साथ विशेष ध्यान कराया जा रहा है.



loading...