24 घंटे में PM मोदी और चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग के बीच होंगी 6 मुलाकातें, यह है पूरा कार्यक्रम

2018-04-27_modi4789.jpg

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से अनौपचारिक मुलाकात करने के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन में हैं. दोनों बड़े नेता 24 घंटे के अंदर 6 मुलाकातें करेंगे. इसमें एक मुलाकात ईस्ट लेक की नाव पर भी होगी. दोनों नेता द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ाने के लिए रणनीतिक और दीर्घकालीन परिप्रेक्ष्य से समीक्षा करेंगे. मोदी के लिए खासतौर से शाकाहारी खाने की व्यवस्थी की गई है. चीन के लिए रवाना होने से पहले मोदी ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी.

जानकारी के मुताबिक , पीएम मोदी की यात्रा की शुरुआत शुक्रवार को भारतीय समयानुसार दोपहर करीब पौने एक और चीनी समयानुसार साढ़े 3 बजे होगी. हुवई प्रोविंसियल म्यूजियम में शी जिनपिंग पीएम का स्वागत करेंगे. शुक्रवार की रात ईस्ट लेक गेस्ट हाउस में जिनपिंग की मेहमान नवाजी में पीएम रात्रि का भोजन करेंगे. शनिवार को ईस्ट लेक गेस्ट हाउस में ही पीएम मोदी और जिनपिंग के बीच बातचीत होगी. पीएम मोदी की इस यात्रा के दौरान दोनों नेता बोट राइडिंग करेंगे. उसके बाद लंच का भी इंतजाम किया गया है.

मोदी का कहना है कि वह राष्ट्रपति जिनपिंग से द्विपक्षीय एवं वैश्विक महत्व के कई मुद्दों पर चर्चा करेंगे. इसके अलावा दोनों नेता अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मौजूदा एवं भावी परिस्थितियों के मद्देनजर राष्ट्रीय विकास को लेकर अपने दृष्टिकोण एवं प्राथमिकताओं पर भी बात करेंगे. 

चीन के उप विदेश मंत्री कांग जुआनयू ने कहा कि दोनों नेता आपसी विश्वास बहाल करने और बकाया मुद्दों को हल करने पर सहमति कायम करने की कोशिश करेंगे. सूत्रों के अनुसार यह बैठक मुद्दा आधारित नहीं होगी बल्कि यह दोनों नेताओं के बीच राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर एक-दूसरे के नजरिए को समझने के लिए एक रणनीतिक वार्ता होगी.

चीन के उप विदेश मंत्री कांग जुआनयू ने कहा है कि चीन अपने स्वागत से भारत को चौंका देगा. मोदी का शानदार रेड कार्पेट स्वागत होगा. कांग के मुताबिक वुहान शहर के अनौपचारिक माहौल को इसलिए चुना गया है ताकि 2 दोस्तों के बीच दिल से दिल की बात हो सके. 



loading...