ताज़ा खबर

केंद्र सरकार के खिलाफ चंद्रबाबू नायडू की भूख हड़ताल शुरू, कहा- आंध्र प्रदेश के लोगों के आत्मसम्मान को लेकर रहेंगे

2019-02-11_chandrababu-naidu.jpg

तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) प्रमुख एवं आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू अपने राज्य को विशेष दर्जा दिलाने और राज्य पुनर्गठन अधिनियम, 2014 के तहत केंद्र द्वारा किए गए वादों को पूरा करने की मांग को लेकर आज दिल्ली में एक दिन का अनशन कर रहे है. अपना अनशन शुरू करने से पहले चंद्रबाबू नायडू ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की. इसके बाद चंद्रबाबू नायडू आंध्र प्रदेश भवन पहुंचे और वहां एक दिन की अपनी भूख हड़ताल शुरू कर दी है.

नायडू सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक अनशन पर रहेंगे इसके बाद वह राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को एक ज्ञापन भी सौंपेंगे. मुख्यमंत्री अपने मंत्रियों, पार्टी के विधायकों, एमएलसी और सांसदों के साथ धरना दे रहे है. राज्य कर्मचारी संघों, सामाजिक संगठनों और छात्र संगठनों के सदस्य भी इसमें शामिल होंगे.

नायडू ने कहा, 'यदि आप हमारी मांगों को पूरा नहीं करते हैं तो हम जानते हैं कि उन्हें कैसे पूरा करवाया जाना है. यह आंध्र प्रदेश के लोगों के आत्मसम्मान को लेकर है. जब भी हमारे आत्मसम्मान पर हमला किया जाएगा, हम उसे बर्दाश्त नहीं करेंगे. मैं इस सरकार को चेतावनी देता हूं और खासतौर से पीएम को कि वह व्यक्तिगत हमले करना बंद करें.

आपको बता दें कि टीडीपी राज्य के बंटवारे के बाद आंध्र प्रदेश से किए गए अन्याय का विरोध करते हुए पिछले साल बीजेपी नीत एनडीए से बाहर हो गई थी. इससे पहले रविवार को पीएम मोदो ने आंध्र प्रदेश के गुंटूर में रैली करते हुए चंद्रबाबू नायडू पर जमकर हमला किया था.

पीएम मोदी ने मुख्‍यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर हमला बोलते हुए कहा, 'आप हमारे सीनियर हैं, इसलिए आपके सम्‍मान में हमने कोई कमी नहीं छोड़ी. आप सीनियर हैं दल बदलने में, आप सीनियर हैं दूसरी पार्टियों से गठबंधन करने में, आप सीनियर हैं एक चुनाव के बाद दूसरे चुनाव में हारने में और मैं तो उसमें सीनियर हूं नहीं.' उन्‍होंने कहा कि चंद्रबाबू पहले जिसे गाली देते हैं, बाद में उसी की गोद में जा बैठते हैं. वह अपने ससुर (एनटी रामा राव) की पीठ में छुरा घोंपने में सीनियर हैं.



loading...