मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: सुप्रीमकोर्ट ने दिया मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर का मेडिकल टेस्ट कराने का आदेश

बिहार: सीट बंटवारे को लेकर चिराग पासवान ने बीजेपी को दी नसीहत, बोले- गठबंधन पर बात नहीं बनी तो होगा नुकसान

लालू यादव से मिलने जा रहे तेजप्रताप की तबियत बिगड़ी, डॉक्टरों ने बताई यह बीमारी

पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव में JDU के मोहित प्रकाश ने मारी बाजी, ABVP का 3 सीटों पर कब्जा

तेज प्रताप का तलाक की अर्जी लेने से इनकार, कोर्ट ने ऐश्‍वर्या को भेजा नोटिस

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: सुप्रीमकोर्ट से बिहार सरकार को बड़ा झटका, सीबीआई को सौंपी 17 शेल्टर होम केस की जांच

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: सुप्रीमकोर्ट ने बिहार सरकार को लगाई फटकार, कहा- 24 घंटे में ठीक करें FIR

2018-12-06_BrajeshThakur.jpg

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप केस के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर का तुरंत मेडिकल टेस्ट कराने का सुप्रीमकोर्ट ने आदेश दिया है. सुप्रीमकोर्ट का आदेश ब्रजेश ठाकुर के उस आरोप के बाद सामने आया है जब उसने पंजाब के पटियाला जेल के सुपरिटेंडेंट पर पैसा मांगने का आरोप लगाया है. उसने कहा कि सुपरिटेंडेंट पैसों के लिए उसे प्रताड़ित कर रहा है.

आपको बता दें कि पिछले महीने लड़कियों से कथित यौन हिंसा और बलात्कार मामले में मुख्य आरोपी और आश्रय गृह के मालिक बृजेश ठाकुर को पंजाब के पटियाला जेल में ट्रांसफर किया गया था. सुप्रीम कोर्ट ने आदेश के बाद ब्रजेश को वहां शिफ्ट किय गया. सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि 'ब्रजेश ठाकुर को केन्द्रीय कारा भागलपुर से ट्रांसफर कर पटियाला जेल में भेजा जाए, जहां उन्हें उच्च स्तरीय सुरक्षा के बीच रखा जाएगा.

पुलिस ने मुजफ्फरकाण्ड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को गिरफ्तार किया था. सरकार ने पूरे मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी थी. इस मामले में अब तक दस लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. इस मामले में राज्य के सामाजिक कल्याण मंत्री मंजू वर्मा को इस्तीफा भी देना पड़ा है. आरोप है कि मंत्री रही वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा का ब्रजेश के साथ घनिष्ठ संबंध है.



loading...