भारी बारिश से मायानगरी का हाल बेहाल, ट्रेनें और यातायात बुरी तरह प्रभावित, स्कूल-कॉलेज बंद

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में सुप्रीमकोर्ट ने 19 सितंबर तक बढ़ाई आरोपी कार्यकर्ताओं की नजरबंदी

मुंबई कांग्रेस में गुटबाजी शुरू, संजय निरुपम को अध्यक्ष पद से हटाने के लिए मल्लिकार्जुन खड़गे से मिले कई नेता

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में सुप्रीमकोर्ट ने 17 सितंबर तक बढ़ाई आरोपी कार्यकर्ताओं की नजरबंदी

एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेजिडेंट की हत्या की गुत्थी सुलझी, खूनी के पास बाइक की EMI देने के लिए नहीं थे पैसे, कर दी हत्या

एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी का शव बरामद, पुलिस ने आरोपी को पकड़ा

भीमा कोरेगांव केस मामले में SC में महाराष्ट्र सरकार का दावा- माओवादियों के संपर्क में थे गिरफ्तार कार्यकर्ता

2018-07-10_mumbaiheavyrain.jpg

मुंबई में सोमवार को हुई भारी बारिश का दौर मंगलवार को भी थमा नहीं है. सोमवार को शहर में 2011 से लेकर अब तक किसी मॉनसून सीजन में एक दिन में सबसे ज्यादा बारिश दर्ज की गई थी. वहीं आज हो रही बारिश से शहर के कई इलाकों में जलभराव से लोगों को मुश्किल उठानी पड़ रही है. इसके साथ ही लोकल सेवा पर भी बुरा असर पड़ा है. इस बीच मौसम विभाग की मानें तो मुंबई को अभी शुक्रवार तक भारी बारिश से निजात नहीं मिलने वाली है.

मंगलवार को मूसलाधार बारिश के बाद शहर के कई इलाकों में घुटनों तक पानी भर गया है. वडाला इलाके में एक कार पानी में डूबी नजर आई. इसके साथ ही दादर टीटी, गांधी मार्केट, पालघर के नालासोपारा के साथ ही सायन-पनवेल हाइवे और चेंबूर इलाके में भी सड़कों पर जलभराव हो गया है. नालासोपारा के पांडेयनगर में कई घरों में बारिश का पानी घुस गया. भारी बारिश के बाद मुंबई के डब्बावालों ने भी अपनी सेवाएं एक दिन के लिए बंद कर दी हैं.

इस बीच भारी बारिश की वजह से मुंबई की लाइफलाइन लोकल की रफ्तार थम गई है. वेस्टर्न रेलवे के डिविजनल मैनेजर का कहना है कि नालासोपारा में अप और डाउन लाइन पर लोकल बाधित हुई है. इसके साथ ही वेस्टर्न लाइन पर विरार और चर्च गेच के बीच लोकल 10 से 15 मिनट की देरी से चल रही है. वहीं, वसई और विरार के बीच लोकल सेवा को रोक दिया गया है. इसके साथ ही बारिश को देखते हुए स्कूल-कॉलेजों को मंगलवार को भी बंद रखा गया है.

इससे पहले सोमवार को मुंबई और आस-पास के क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश के कारण सड़कों, रेलवे की पटरियों पर पानी भर गया और शहर में जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया. सोमवार तक मुंबई और इसके सबअर्बन इलाकों में 1363 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई. यह एक सीजन में होने वाली बारिश के 54 प्रतिशत कोटे के बराबर है. हिंदमाता, किंग सर्कल, खार, सायन, ठाणे, विरार और वसई इलाकों में जगह-जगह जलभराव देखा गया. बारिश की वजह से लोग अपने दफ्तर देरी से पहुंचे, वहीं स्कूल-कॉलेजों में छुट्टी रही.

इस बीच मौसम विभाग ने शुक्रवार तक मुंबई और उसके नजदीकी इलाकों में भारी से बेहद भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. मुंबई में सोमवार को 203 मिमी बारिश दर्ज हुई. वहीं, कोलाबा में रविवार सुबह 8.30 से सोमवार सुबह 8.30 के बीच 170 मिमी, जबकि सोमवार सुबह 8.30 से सोमवार शाम 8.30 के बीच 110 मिमी बारिश रेकॉर्ड की गई.



loading...