मध्यप्रदेश: विधानसभा चुनाव से पहले इन प्रस्तावों पर लगी मुहर, 7 नई तहसीलों का होगा गठन

मध्यप्रदेश के उज्जैन में बड़ा दर्दनाक हादसा, कार और वैन की टक्कर में 12 की मौत, पूर्व सीएम शिवराज ने जताया दुःख

मध्यप्रदेश: BSP विधायक रमाबाई ने कहा- अगर मुझे मंत्री नहीं बनाया तो कर्नाटक जैसा होगा कमलनाथ सरकार का हाल

बैकफुट पर कमलनाथ सरकार, मंत्री के बयान पर दी सफाई, कहा- बंद नहीं होगी ‘भावांतर योजना’

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने की पूर्व सीएम शिवराज सिंह से मुलाकात, MP में मच सकती है सियासी उथल-पुथल

भय्यू महाराज ने ब्लैकमेलिंग से परेशान होकर की थी आत्महत्या, 3 लोग गिरफ्तार

कर्नाटक के बाद अब मध्यप्रदेश में कांग्रेस हुई सतर्क, बीजेपी नेता ने कहा- जब तक मंत्रियों के बंगले पुतेंगे कांग्रेस सरकार गिर जाएगी

2018-09-18_mpcabinet.jpg

विधानसभा चुनाव से पहले मध्यप्रदेश सरकार प्रदेश में कई बड़े बदलावों की ओर बढ़ रही है. इसी कड़ी में मंगलवार को कैबिनेट की हुई बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर मुहर लगाई. इस बैठक में प्रदेश में सात नई तहसीलों के प्रस्ताव को मंजूरी दी है.

नई तहसीलों में देवरी, खुजनेर, सुठालिया, रन्नोद, झारड़ा, बहादुरपुर और पीथमपुर शामिल हैं. इन तहसीलों के लिए नए पद भी मंजूर किए गए हैं. लेकिन इन तहसीलों में पहले से चल रही कृषि यंत्रीकरण प्रोत्साहन योजना, परंपरागत खेती विकास योजना को आगे रखने का फैसला किया गया है.

इसी बैठक में कई और अहम फैसले लिए गए जिसमें 2017 में खरीदी गई अरहर को भी मंजूरी दी गई. प्याज भंडारण 2016 में की गई छटनी को अनुमति दी गई। बीस रुपए प्रति क्विंटल प्रति माह के हिसाब से 3 बार के लिए भुगतान को मंजूरी दी गई.

नगरीय स्वच्छता मिशन निरंतर रहेगा. संसदीय कार्य विभाग में 12 अस्थाई पदों को निरंतर रखा जाएगा. भोपाल मेडिकल कॉलेज में किडनी के इलाज के लिए 35 नए पद मंजूर किए गए हैं. सागर के रैहली में उद्यानिकी कॉलेज और खुरई में कृषि कॉलेज खुलेगा. कैबिनेट ने पत्रकार बीमा राशि को 2 लाख से बढ़ाकर 4 लाख रुपए करने का फैसला लिया है, इसका लाभ उनके माता-पिता को भी मिलेगा.



loading...