इंडोनेशिया: एशियाई खेलों के दौरान ट्रैफिक की समस्या से निपटने के लिए 15 दिन बंद रहेंगे जकार्ता के 70 स्कूल

अमेरिका में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने लगाई इमरजेंसी, मैक्सिको बोर्डर पर बनाई जाएगी दीवार

अमेरिका-मैक्सिको सीमा पर दीवार बनाने पर अड़े डोनाल्ड ट्रंप, जल्द करेंगे आपातकाल की घोषणा

Pulwama Terror Attack: अमेरिका की पाक को चेतावनी, आतंकवाद को पनाह देना बंद करे, पाकिस्तान ने गंभीर चिंता का विषय बताया

पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट का आदेश, ‘‘घृणा, चरमपंथ और आतंकवाद’’ फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करे सरकार

डोनाल्ड ट्रंप ने 'स्टेट ऑफ यूनियन' में अमेरिका-मैक्सिको सीमा पर दीवार बनाने का किया वादा, किम जोंग से फिर करेंगे मुलाकात

क्रिप्टोकरेंसी कंपनी के CEO की मौत से निवेशकों के 190 मिलियन डॉलर हुए लॉक, किसी को नहीं पता पासवर्ड

2018-08-10_JakartaAsianGames.jpg

इंडोनेशिया के जकार्ता और पालेमबैंग में 18 अगस्त से 2 सितंबर तक 18वें एशियाई खेल होने हैं. इस दौरान ट्रैफिक की समस्या से निपटने के लिए सरकार ने जकार्ता के सभी 70 स्कूलों को बंद रखने का फैसला किया है. इससे करीब 31 हजार छात्रों को घर पर ही कोर्स पूरा करना पड़ेगा. इनमें प्री से लेकर हाईस्कूल तक के स्कूल शामिल हैं. जकार्ता एजुकेशन एजेंसी (जेईए) के कार्यकारी प्रमुख बोवो रियानाटो का दावा है कि इस फैसले से छात्रों की पढ़ाई का नुकसान नहीं होगा. टीचर उन्हें सामान्य दिनों की तरह होमवर्क देते रहेंगे.

स्कूल बंद होने से एथलीट्स को खेल वाली अलग-अलग जगहों तक पहुंचने में कम समय लगेगा. जकार्ता के डिप्टी गर्वनर ने सैंडिआगा ने बताया, हम उम्मीद कर रहे हैं कि इससे 30 फीसदी से 40 फीसदी तक ट्रैफिक कम हो जाएगा. 

ट्रैफिक की समस्या के लिए जकार्ता बदनाम है. 2016 में सेटेलाइट नेविगेशन डाटा के आधार पर यह शहर खराब ट्रैफिक सूचकांक में टॉप पर था. इसमें पाया गया कि जकार्ता का लगभग हर ड्राइवर सालभर में औसतन 33 हजार बार गाड़ी स्टॉर्ट और बंद करता है. एक अनुमान के अनुसार, शहर में 70% वायु प्रदूषण का कारण वहां के वाहन हैं. करीब 40 किलोमीटर दूर बोगोर से जकार्ता पहुंचने में आमतौर पर दो घंटे का समय लगता है. जकार्ता में काम करने वाले बहुत से लोग बोगोर में रहते हैं.



loading...