भारतीय महिला टीम की पूर्व कप्तान मिताली राज ने T-20 क्रिकेट से लिया संन्यास

2019-09-03_MitaliRaj.jpeg

भारतीय महिला क्रिकेट की पूर्व कप्‍तान मिताली राज ने अंतरराष्‍ट्रीय टी-20 क्रिकेट से संन्‍यास का ऐलान कर दिया है. महिला क्रिकेट में मिताली राज धोनी के नाम से भी काफी मशहूर हैं. हालांकि इस बीच मिताली राज एकदिवसीय मैच में खेलती रहेंगी.

अगले साल T-20 महिला क्रिकेट विश्‍व कप होना है, लेकिन उससे पहले ही मिताली राज ने T-20 अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट से संन्‍यास का ऐलान कर दिया, इसे भारतीय महिला क्रिकेट के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. अंतरराष्‍ट्रीय T-20 में भारत की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाली महिला क्रिकेटर मिताली राज ही हैं. इसके अलावा अंतरराष्‍ट्रीय T-20 में भारत की ओर से सबसे पहले 2000 रनों का आंकड़ा मिताली राज ने ही पार किया था.

आपको बता दें कि मिताली राज ने अंतरराष्‍ट्रीय T-20 में 32 मैचों में भारत की कप्तानी की है, जिसमें 2012 में महिला T-20 विश्‍व कप और 2016 में बांग्लादेश में हुए T-20 विश्‍व कप में भारतीय टीम की कप्‍तान रह चुकी हैं. लंबे अर्से से मिताली राज भारतीय महिला क्रिकेट टीम का पर्याय रही हैं.

मिताली राज के अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट करियर की बात करें तो उन्‍होंने 89 T-20 मैच खेले हैं, जिनकी 84 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए उन्‍होंनें 2364 रन बनाए हैं, उनका औसत 37.52 का है. T-20 में मिताली राज ने 17 अर्द्धशतक भी जमाए हैं. मिताली ने तीन बार ICC महिला वर्ल्ड T-20 में भी टीम इंडिया की कप्तानी की है. 2012, 2014 और 2016 ICC महिला वर्ल्ड T-20 में भारत की कप्तानी की है.

संन्‍यास के ऐलान के बाद मिताली राज ने कहा कि 2006 से अब तक भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करने के बाद वह इस फॉर्मेट को अलविदा कहना चाहती हैं, उन्‍होंने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा कि वह इस समय 2021 के एक दिवसीय विश्‍व कप फोकस कर रही है.

मिताली ने कहा कि अपने देश के लिए विश्व कप जीतना मेरा सपना है और वह इसमें अपना सर्वश्रेष्ठ देना चाहती हैं. वह बीसीसीआई को लगातार सपोर्ट करने के लिए धन्यवाद देना चाहती हैं और भारतीय T-20 टीम को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घर पर होने वाले T-20 सीरीज के लिए शुभकामनाएं देती हैं.



loading...