गेस्ट हाउस कांड में मुलायम सिंह के खिलाफ केस वापस लेंगी बसपा अध्यक्ष मायावती

शिवपाल यादव के तेवर पड़े नरम, अखिलेश यादव की तरफ बढ़ाया दोस्ती का हाथ, बोले- एक हो जाएं तो बना लेंगे सरकार

कैंट सीओ धमकी मामले में सीएम योगी ने मंत्री स्वाति सिंह को लगाई फटकर, DGP ने मांगी रिपोर्ट

नोएडा में नौकरी की तलाश में आई युवती से 6 लोगों ने किया गैंगरेप, 4 आरोपी गिरफ्तार

यूपी: मृतक के परिजनों से बदसलूकी करने वाले अमेठी के DM पर गिरी गाज, अरुण कुमार नए जिलाधिकारी

यूपी: होमगार्डों की फर्जी हाजिरी और वेतन निकासी में करोड़ों का घोटाला, आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तैयारी

अयोध्या फैसले के दिन यूपी में हत्या, लूट, अपहरण, डकैती की नहीं हुई कोई भी वारदात, अधिकारियों को भी नहीं हो रहा यकीन

2019-11-08_MayaMulayam.jpg

बहुजन समाज पार्टी (BSP) प्रमुख मायावती ने उत्तर प्रदेश की सियासत के सबसे चर्चित गेस्ट हाउस कांड में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव पर अपना रुख नरम कर लिया है. मायावती ने सुप्रीम कोर्ट में मुलायम सिंह पर से मुकदमा वापस लेने का शपथ पत्र देकर यूपी की राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है. हालांकि, मायावती गेस्ट हाउस कांड में सिर्फ मुलायम पर मुलायम हो रही है. मामले से जुड़े हुए बाकी लोगों पर केस चलता रहेगा.

आपको बता दें कि सपा-बसपा का गठबंधन के दौरान ही गेस्ट हाउस कांड से केस वापस लेने की पथकथा लिखी गई थी. फरवरी में दोनों पक्षों के वकील ने सुप्रीम कोर्ट में गेस्ट हाउस केस वापस करने की अर्जी दे दी थी, जिस पर दो डेट भी पड़ चुकी है. इस तरह से गठबंधन टूटने के बाद भी मायावती ने अपने वादे पर कायम हैं और अब जल्द ही गेस्ट हाउस कांड में मुलायम के खिलाफ आखिरी तौर पर केस वापस ले सकती है.

मायावती ने गुरुवार को बसपा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में गेस्ट हाउस कांड केस वापस लेने को लेकर चर्चा हुई. मायावती के करीबी सूत्रों के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट में इस बाबत अर्जी की तैयारी की जा चुकी है. इसमें मुलायम सिंह यादव पर से केस वापस लिया जाएगा, लेकिन बाकी लोगों के खिलाफ यह मामला चलेगा.

आपको बता दें कि बाबरी विध्वंस के बाद 1993 में सपा-बसपा ने गठबंधन कर साथ चुनाव लड़े थे. इसके बाद मुलायम सिंह यादव मुख्यमंत्री बने और गठबंधन सरकार भी बनाई, लेकिन दो साल में ही रिश्तों में खटास आ गई. 2 जून 1995 को मायावती ने गठबंधन तोड़ने को लेकर स्टेट गेस्ट हाउस में बसपा विधायकों की बैठक बुलाई, जहां सपा नेताओं ने सैकड़ों समर्थकों के साथ गेस्ट हाउस पर हमला कर दिया.



loading...