UAPA कानून के तहत हाफिज सईद, दाऊद इब्राहिम, मसूद अजहर और जकी उर रहमान लखवी आतंकवादी घोषित

2019-09-04_Terrorists.jpg

भारत सरकार ने बुधवार को गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम कानून यानी UAPA के तहत पाकिस्तान में छिपे हुए 4 साजिशकर्ताओं को आतंकवादी घोषित किया है. इस लिस्ट में हाफिज सईद, दाऊद इब्राहिम, मसूद अजहर और जकी उर रहमान लखवी का नाम शामिल है. 

आपको बता दें कि साल 2008 में 26/11 आतंकी हमलों का मास्टरमाइंड हाफिज सईद पाकिस्तान में जमात उद दावा नाम का आतंकी संगठन चला रहा है और लगाता भारत के खिलाफ आग उगलता रहता है. वहीं इस लिस्ट में दूसरा नाम आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा का सरगना जकी उर रहमान लखवी का है. लखवी कश्मीर में एलईटी का सुप्रीम कमांडर है और यह एनआईए की मोस्ट वान्टेड लिस्ट में भी शामिल है.

इस लिस्ट में तीसरा नाम जैश ए मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर का है. इस लिस्ट में तीसरा नाम मुंबई बॉम्ब ब्लास्ट का आरोपी और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का है.

जानिए क्या है यूएपीए बिल-

8 जुलाई को गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में यूएपीए बिल पेश किया था. इस बिल के जरिए भारत सरकार बढ़ते हुए आतंकवाद पर काबू करने का दावा कर रही है. यूएपीए बिल के मुताबिक केंद्र सरकार किसी भी संगठन को आतंकी संगठन घोषित कर सकती है बशर्ते वो संगठन आतंक से जुड़े किसी भी मामले में उसकी सहभागिता या किसी तरह का कोई कमिटमेंट करता हुआ पाया जाए, संगठन किसी आतंकवादी घटना को अंजाम देने की तैयारी कर रहा हो, संगठन आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा हो या फिर किसी संगठन की आतंकी गतिविधियों में किसी अन्य तरह की संलिप्तता हो. इसके अलावा यह विधेयक सरकार को यह अधिकार भी देता है कि वो किसी भी व्यक्ति को इस नियम के आधार पर आतंकवादी घोषित कर सकती है.



loading...