मणिशंकर अय्यर ने फिर खोया आपा, पीएम मोदी को कहे अपशब्द

2017-12-07_Mani-shankar-iyer.jpg

कुछ दिन पहले ही राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनने की प्रक्रिया को औरंगजेब शासन से जोड़ कर भाजपा को बड़ा मुद्दा देने वाले कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर की जुबान एक बार फिर फिसल गई।

प्रधानमंत्री मोदी को निशाना बनाने के चक्कर में वह एक बार फिर कुछ ऐसा कह गए जो आने वाले समय में उनके और उनकी पार्टी के गले की फांस बन सकता है। इस बार प्रधानमंत्री मोदी की आलोचना करते हुए अय्यर ने उनके प्रति जमकर अपशब्दों का इस्तेमाल किया।

हालांकि उन्होंने अपनी बात में प्रधानमंत्री मोदी का नाम तो नहीं लिया लेकिन उनका सीधा इशारा उन्हीं की तरफ था। असल में मणिशंकर अय्यर प्रधानमंत्री मोदी द्वारा लगाए गए उस आरोप पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें पीएम ने जवाहर लाल नेहरू पर डा. भीमराव अंबेडकर के साथ पक्षपात करने और उनकी भूमिका को कम करके दिखाने का आरोप लगाया था।

इस मुद्दे पर मोदी की आलोचना करते हुए मणिशंकर इतना आगे निकल गए कि उन्हें ये भी भान नहीं रहा कि प्रधानमंत्री के प्रति वह कैसे शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं।

वह प्रधानमंत्री मोदी के प्रति काफी तल्‍ख दिखे। उनकी नाराजगी इस बात को लेकर भी थी कि मोदी ने राहुल गांधी के संबंध में दिए गए उनके औरंगजेब वाले बयान को गुजरात चुनावों में मुद्दा बना दिया।

बता दें कि एक दिन पहले ही गुजरात के धुंधका में हुई चुनावी रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने डा. भीमराव अंबेडकर के सहारे पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला था। पीएम मोदी ने आरोप लगाया था कि एक परिवार ने डा. अंबेडकर और सरदार वल्लभ भाई पटेल के साथ बहुत अन्याय किया था।

मोदी ने आरोप लगाया कि जब कांग्रेस में जवाहर लाल नेहरू का प्रभाव पड़ा तो उन्होंने डा. अंबेडकर के लिए मुश्किलें खड़ी कर दीं उनके संविधान सभा का अध्यक्ष बनने की राह में भी रोड़े अटकाए गए। 

प्रधानमंत्री मोदी के इसी बयान पर आज कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने तीखी प्रतिक्रिया दी। अय्यर ने कहा कि अंबेडकर जी की जो सबसे बड़ी ख्वाहिश थी कि उसे साकार करने में एक ही आदमी का सबसे बड़ा योगदान था उनका नाम था जवाहर लाल नेहरू।

अब इस परिवार के बारे में ऐसी गंदी बातें करें वो भी जबकि अंबेडकर जी की याद में एक बहुत बड़ी इमारत का उद्घाटन यहां हो रहा है, तब ऐसी बात की जाए, मुझे लगता है ये आदमी बहुत नी##@@ किस्म का आदमी है इसमें कोई सभ्यता नहीं है ऐसे मौके पर ऐसी गंदी राजनीति की क्या आवश्यकता है।

,


loading...