Rajasthan: पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर में संत पर हमला, संत ने गर्भगृह में घुसकर बचाई जान, राष्ट्रपति के अपमान को लेकर किया हमला

राजस्थान में विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी को बड़ा झटका, जसवंत सिंह के पुत्र मानवेंद्र सिंह ने थामा कांग्रेस का हाथ

राजस्थान के स्कूलों में नवरात्रि के दौरान टीचर्स और छात्र धोते हैं छात्राओं के पैर

राजस्थान- विधानसभा चुनाव में अपने बेटों को विधायक बनाने में लगे कांग्रेस-बीजेपी के दिग्गज नेता

राजस्थान में फिर उठी जाट आरक्षण की मांग, कांग्रेस विधायक ने दी बड़े आन्दोलन की चेतावनी

करणी सेना के संरक्षक लोकेंद्र सिंह कलवी ने कहा, जो राजपूतों का साथ देगा वहीं राजस्थान पर राज करेगा

दुष्कर्म के आरोपी फलाहारी बाबा दोषी करार, कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा और 1 लाख का जुर्माना

2018-05-29_pujari.jpg

राजस्थान के पुष्कर के प्रसिद्ध ब्रह्मा मंदिर से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. जहां एक सरफिरे शख्स ने पुजारी पर तेजधार हथियार से हमला कर दिया. यही नहीं उस शख्स ने वहां मौजूद श्रद्धालुओं पर भी हमला बोल दिया. यह पूरी घटना मंदिर में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. दरअसल इस पुजारी ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को मंदिर में प्रवेश करने से रोका था जिससे यह शख्स नाराज था.

यह घटना सोमवार शाम की है जब पुजारी मंदिर में श्रृद्धालुओं को प्रसाद बांट रहे थे। इसी बीच एक अधेड़ ने धारदार हथियार से पुजारी पर हमला बोल दिया जिसे देख वहां भगदड़ मच गई. मंदिर में मौजूद श्रद्धालु वहां से भाग निकले. इस हमले में पुजारी को गंभीर चोंटे आई उन्होंने किसी तरह गर्भगृह में घुस कर अपनी जान बचाई. वीडियो में दिखाई दे रहा है कि वह शख्स हथियार लहराता हुआ मंदिर में घूमता रहा. इसी बीच सफाईकर्मियों ने उसे दबोच कर पुलिस के हवाले कर दिया.

पुलिस के अनुसार हमलावर का नाम अशोक कुमार मेघवाल है वह खुद को एमबीबीएस डॉक्टर बता रहा है. पूछताछ में उसने बताया कि मंदिर के पुजारी ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को मंदिर में प्रवेश करने से रोका था. जिससे नाराज होकर उसने धारदार हथियार सें पुजारी पर हमला कर दिया. वहीं पुजारी का कहना है कि जिस दिन राष्ट्रपति मंदिर आए थे वे यहां मौजूद ही नहीं थे. लोगों के अनुसार हमलावर दो दिन पूर्व भी मंदिर आया था. काफी देर तक मंदिर के बाहर बैठा था.
 



loading...