ताज़ा खबर

आज से मध्य-उत्तरी भारत में लू का प्रकोप, राजस्थान के बूंदी में 48 डिग्री तापमान

श्रीराम सेना के प्रमुख प्रमोद मुथालिक ने कुत्ते से की गौरी लंकेश की तुलना, कहा- अगर कोई कुत्ता मर जाए, तो क्या इसके जिम्मेदार PM मोदी हैं

सूरजकुंड में चल रही BJP-RSS की बैठक खत्म हुई, शाम को पीएम मोदी साथ डिनर में शामिल होंगे नेता

धूल में सना उत्तर भारत: दिल्ली-चंडीगढ़ में सुबह से धूल भरी आंधी, इंडिगो समेत 26 उड़ानें हुईं रद्द

CIA ने विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल को बताया 'धार्मिक आतंकी संगठन'

डिजिटल इंडिया प्रोग्राम में पीएम मोदी ने कहा- इससे बिचौलियों की भूमिका खत्म हो गई, सेवाएं घर तक पहुंची

जम्मू-कश्मीर: अगवा किये गये सेना के जवान औरंगजेब की आतंकियों ने की हत्या, शव मिला

2018-05-23_weathernews.jpg

दिल्ली-एनसीआर, राजथान और मध्यप्रदेश में अगले 24 घंटों में गर्मी का प्रकोप बना रहेगा. बुधवार को मध्य-उत्तरी भारत में गर्म हवाएं चलेंगी. मंगलवार को राजस्थान के बूंदी जिले में पारा 48 डिग्री तक पहुंच गया. यह देश और प्रदेश का इस सीजन में सबसे गर्म शहर रहा, दुनिया के सबसे गर्म शहर मिस्र के बहरिया की भी बराबरी कर ली. रिपोर्ट्स, के मुताबिक बहरिया में भी बूंदी के बराबर 48 डिग्री तापमान रहा. मौसम विभाग के डिप्टी डायरेक्टर जनरल डॉ. देवेंद्र प्रधान ने बताया कि सेंट्रल पाकिस्तान और राजस्थान में पिछले दो दिनों से हीट वेव चल रही है। राजस्थान से 30 से 35 किमी की रफ्तार से गर्म हवाएं दिल्ली पहुंच रही हैं.

दिल्ली में भी मंगलवार को 30 किमी की रफ्तार से गर्म हवाएं चली जिसकी वजह से राजधानी में मंगलवार इस सीजन का सबसे गर्म दिन दर्ज हुआ। अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस ज्यादा सफदरजंग में 44 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ. जबकि राजस्थान के 8 शहरों में तापमान 45 डिग्री के पार रहा पंजाब समेत मध्य और उत्तरी भारत में लू चलने के कारण गर्मी रिकॉर्ड तोड़ रही है. लोगों को बारिश का इंतजार है मानसून के 29 मई को केरल पहुंचने की संभावना है.

मौसम विभाग के मुताबिक अगले 48 घंटो में बढ़ती गर्मी और तापमान से राहत मिलने की कोई उम्मीद नहीं है. क्योंकि अगले दो दिन तक धूल भरी हवाओं की संभावना जताई है. बुधवार शाम कुछ इलाकों में तेज हवाएं चलने से तापमान में मामूली स्थिरता आ सकती है.

पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी पाकिस्तान में जारी है, जिसका असर राजस्थान और आसपास के इलाकों पर नहीं हो रहा। हालांकि, दक्षिणी राजस्थान से पूर्वी राजस्थान तक चक्रवाती हवाओं का जोर है, लेकिन नमी नहीं मिल पाने से हवाओं में गर्माहट बढ़ रही है। ऐसे में पिछले 8-10 दिन से तापमान में लगातार बढ़ोतरी हो रही है।



loading...