लोकसभा चुनाव: तमिलनाडु में कांग्रेस और डीएमके साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव, ये है शीट शेयरिंग का फॉर्मूला

लोकसभा चुनाव: तमिलनाडु में कांग्रेस और सहयोगी पार्टियां 10-10, डीएमके 20 सीट पर लड़ेगी चुनाव

तमिलनाडु में पीएम मोदी ने की विंग कमांडर अभिनंदन की तारीफ, कहा- उनकी बहादुरी पर पूरे देश को गर्व है

तमिलनाडु: सरकारी अस्पताल में गर्भवती महिला को चढ़ा दिया गया HIV संक्रमित खून

तमिलनाडु: मद्रास हाईकोर्ट का आदेश, मुफ्त का चावल लोगों को बना रहा आलसी, केवल गरीबों को दी जाए सुविधा

चक्रवाती तूफान 'गाजा ' ने तमिलनाडु में दी दस्तक, 11 लोगों की मौत, स्कूल-कॉलेज बंद

तमिलनाडु में चक्रवाती तूफान 'गाजा' ने दी दस्तक, 370 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हवाएं, कई क्षेत्रों में भारी बारिश

2019-02-20_CongressandDMK.jpg

तमिलनाडु और पुड्डुचेरी की 40 सीटों पर कांग्रेस-डीएमके मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ेंगी. दोनों पार्टियों के बीच बुधवार को गठबंधन पर सहमति बनी. इसके तहत द्रमुक तमिलनाडु में 30 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी. कांग्रेस को तमिलनाडु की 9 और पुड्डुचेरी में 1 सीट मिली है. मंगलवार को गठबंधन को लेकर द्रमुक नेता कनिमोझी और तमिलनाडु कांग्रेस अध्यक्ष केएस अलागिरी दिल्ली में राहुल गांधी से मिले थे.

द्रमुक ने तमिलनाडु की सभी 39 सीटों पर यूपीए से अलग होकर पिछला लोकसभा चुनाव लड़ा था. इसमें कांग्रेस और द्रमुक कोई सीट नहीं जीत पाई थीं. इस चुनाव में करुणानिधि ने डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव अलाइंस बनाकर लोकल पार्टियों को एकजुट किया था. इनमें वीसीके, एमएमके, आईयूएमएल और पुथिया तामीझागम शामिल थीं.

भाजपा शासित एनडीए और अन्नाद्रमुक के नेताओं को के मंगलवार को बैठक हुई थी. इसमें अन्नाद्रमुक एनडीए में शामिल हो गई. अब तमिलनाडु में भाजपा, अन्नाद्रमुक और पीएमके मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ेंगी. भाजपा तमिलनाडु की 5 और अन्नाद्रमुक 27 सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी. 7 सीटें पीएमके को दी गईं.



loading...