नवरात्री के आखरी दिन पाएं 9 दिन का पुन्य एक साथ, इस प्रकार करें मां सिद्धिदात्री की पूजा

2017-09-29_Maa-Siddhidatri.jpg

आज नवरात्रि का आखिरी दिन है, जिसे मां दुर्गा की नवीं शक्ति मां सिद्धिदात्री का दिन है। इस दिन को राम नवमीं भी कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि मां सिद्धिदात्री की कृपा से भक्तों को सिद्धियां प्राप्त होती हैं। इन्हें मां सरस्वती का भी एक रूप माना जाता है।

मां सिद्धिदात्री की चार भुजाएं हैं और मां आसान कमल का फूल है। 

मां दुर्गा के बाकी स्वरूप की ही तरह नौवीं शक्ति की भी पूजा की जाती हैं, लेकिन इनकी पूजा में नवाह्न प्रसाद, नवरस युक्त भोजन, नौ किस्म के फूल और नौ प्रकार के फल अर्पित करना चाहिए।

पूजा में सबसे पहले कलश और उसमें मौजूद देवी देवताओं की पूजा करें। इसके बाद माता के मंत्र का जाप करें।

      ॐ देवी सिद्धिदात्र्यै नमः॥

पूजा में सबसे पहले कलश और उसमें मौजूद देवी देवताओं की पूजा करें। इसके बाद माता के मंत्र का जाप करें।

      ॐ देवी सिद्धिदात्र्यै नमः॥



loading...