‘बेरहमी से गोली मारने’ वाले बयान पर कुमारस्वामी का माफी मांगने से इनकार

कर्नाटक: SC के फैसले का बागी विधायकों ने किया स्वागत, बोले- विधानसभा में जाने का प्रश्न ही पैदा नहीं होता

कर्नाटक संकट: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, स्पीकर बागी विधायकों के इस्तीफे पर लें फैसला

कर्नाटक: बागी विधायकों की याचिका पर सुनवाई पूरी, SC कल सुबह 10:30 बजे सुनाएगा फैसला

कर्नाटक Live: बागी विधायकों की याचिका पर SC में सुनवाई शुरू, SIT ने निलंबित विधायक रोशन बेग को हिरासत में लिया

कर्नाटक: 18 जुलाई को कुमारस्वामी साबित करेंगे बहुमत, 15 विधायकों के पाला पलटने से संकट में सरकार

कर्नाटक: बागी विधायकों को कांग्रेस के बड़े नेताओं से खतरा, मुंबई पुलिस ने मांगी सुरक्षा, बीजेपी ने मांग CM कुमारस्वामी का इस्तीफा

2018-12-26_Kumarswamy.jpg

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने ‘बेरहमी से गोली मारने’ वाले अपने बयान के लिए माफी मांगने से इंकार करते हुए कहा कि वह एक ‘भावुक व्यक्ति’ हैं. विपक्ष उनसे इस बयान के लिए माफी मांगने को कह रहा है. मांड्या जिले में जद (एस) के एक कार्यकर्ता के हत्यारों को बेरहमी से गोली मारने का निर्देश फोन पर देते हुए कुमारस्वामी का एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस बयान की वजह से वह विवादों में पड़ गए हैं. मांड्या जिला जद(एस) का मजबूत गढ़ है.

मुख्यमंत्री ने अपने इस बयान पर स्पष्टीकरण भी दिया, लेकिन यह विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा. उन्होंने कहा, ”यह एक बड़ा मुद्दा नहीं है. यह एक मानवीय प्रवृत्ति है. यह एक ऐसी परिस्थिति है, जिसमें कोई भी इंसान उसी तरह से व्यवहार करेगा. मैंने पहले ही इस बात को स्पष्ट कर दिया है, इसलिए मैंने इसके शब्द में बदलाव भी किया.’

जद (एस) कार्यकर्ता प्रकाश की हत्या सोमवार की शाम में कथित तौर पर चार लोगों ने कर दी थी. खुद को भावुक व्यक्ति बताते हुए कुमारस्वामी ने संवाददाताओं से कहा, यहां तक कि अगर कोई एक नागरिक भी संकट में है तो मैं खुद को उसमें शामिल करूंगा. मेरे अनुसार, वह मुद्दा खत्म हो चुका है. इसलिए मैंने ‘एनकाउंटर' के बदले उन्हें ‘स्मोक आउट' करने को कहा. यह मेरा अंतिम शब्द है. मुख्यमंत्री के गैरजिम्मेदाराना बयान के लिए राज्य के भाजपा अध्यक्ष और विधानसभा में विपक्ष के नेता बीएस येदियुरप्पा ने कुमारस्वामी को राज्य के लोगों से माफी मांगने को कहा था.
 



loading...