बंगाल में ममता सरकार के खिलाफ बीजेपी का विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने बरसाईं लाठियां, दागे आंसू गैस के गोले

ममता बनर्जी को झटका, इस सप्ताह बीजेपी में शामिल हो सकते हैं TMC विधायक और पूर्व मेयर सोवन चटर्जी

मिशन 2020 की तैयारी में जुटीं ममता बनर्जी, कहा- सभी पार्टियां बीजेपी की तरह नही, TMC बहुत गरीब पार्टी है

पश्चिम बंगाल: उत्तर परगना में बीजेपी सासंद पर हुआ जानलेवा हमला, हमलावरों ने फेंके बम, चलाईं गोलियां

आयकर विभाग ने दुर्गा पूजा समितियों को भेजा नोटिस, केंद्र सरकार पर भड़कीं ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल: तीन तलाक के खिलाफ आवाज उठाने वाली इशरत जहां को घर खाली करने का आदेश, हनुमान चालीसा के पाठ में हुई थी शामिल

फर्जी डिग्री मामले में ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी को दिल्ली की कोर्ट ने पेश होने का दिया आदेश

2019-06-12_BJPWorkers.jpg

पश्चिम बंगाल में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के बीच चल रहा सियासी संग्राम खत्म होने का नाम नहीं ले रहा. आज भाजपा कार्यकर्ता तृणमूल सरकार के खिलाफ कोलकाता में प्रदर्शन कर रहे हैं. इस दौरान बिपिन बिहारी गांगुली स्ट्रीट पर कोलकाता पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले दागे.

पुलिस मुख्यालय की तरफ बढ़ रहे कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने पानी की बौछार भी की. इस दौरान दोनों पक्षों में ईंट-पत्थर भी जमकर चले. पूरे कोलकाता शहर में सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है. इस दौरान भाजपा कार्यकर्ता ‘जय श्री राम’ के नारे भी लगा रहे हैं.

कल पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बंगाल को गुजरात में बदलने के लिए योजना बनाई जा रही है. उन्होंने कहा, "मैं राज्यपाल का आदर करती हूं लेकिन हर पद की अपनी संवैधानिक सीमा होती है. बंगाल को बदनाम किया जा रहा है. अगर आप बंगाल और उसकी संस्कृति को बचाना चाहते हैं तो साथ आएं. बंगाल को गुजरात में बदलने के लिए योजना बनाई जा रही है. बंगाल गुजरात नहीं है." 

मंगलवार को ममता बनर्जी ने कोलकाता में कॉलेज स्ट्रीट के स्कूल ग्राउंड में समाज सुधारक ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा का अनावरण किया था. लोकसभा चुनाव के दौरान 14 मई को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान भाजपा और तृणमूल कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई थी. 

इसमें विद्यासागर की प्रतिमा खंडित हो गई थी. दोनों पार्टियों ने एक-दूसरे पर मूर्ति तोड़ने का आरोप लगाया था. अब उसी जगह यानी कोलकाता के विद्यासागर कॉलेज में नई मूर्ति लगाई गई है.
 



loading...