3 साल तक फ्रीजर में रखी मां की लाश, अंगूठे का निशान लेकर हर महीने निकालता था पेंशन

2018-04-05_man-kolkata-dead-mother.jpg

3 साल पहले एक व्यक्ति की मां की मौत हो गई. उनका अंतिम संस्कार करने की जगह बेटे ने उनकी बॉडी को केमिकल में लपेटकर घर में ही रेफ्रिजरेटर में रख दिया. बेटा चाहता था कि मां को मिलने वाली पेंशन बंद न हो. इसलिए उसने मां की बॉडी को घर में ही फ्रीज कर रख दिया और पेंशन निकालने जाने से पहले उनके अंगूठे का निशान लेता रहा. न्यूज 18 की खबर के मुताबिक वह मरी हुई मां को जिंदा बता तीन साल तक पेंशन का लाभ लेता रहा.

लेदर टेक्नोलॉजिस्ट सुभ्रर्ता मजूमदार की मां बिना मजमूदार जो कि रिटायर्ड एफसीआई ऑफिसर थीं उन्हें हर महीने 50 हजार रुपए पेंशन मिलता था. आरोप है कि मां की मौत के बाद भी उनका बेटा सुभ्रर्ता तीन साल तक पेंशन लेता रहा.

घटना सामने आने के बाद पुलिस भी इस मामले को लेकर आश्चर्य जता रही है कि इतनी बारीकी से उसने बॉडी को तीन साल तक कैसे सुरक्षित रखा. पुलिस का कहना है कि उसे पता था कि बॉडी को कैसे प्रिजर्व करना है.

सुभ्रर्ता के 90 साल के पिता गोपाल चंद्रा मजमूदार ने स्वीकार किया है कि उनकी पत्नी की बॉडी घर में ही पड़ी रही. उन्होंने खुलासा किया कि उनके बेटे ने अपनी मां के फिर से जीवित हो उठने के उद्देश्य से शव को रेफ्रिजरेटर में प्रिजर्व रखा.

सुभ्रर्ता के पड़ोसियों ने बताया कि वह किसी से बातचीत नहीं करता था. पड़ोसियों का कहना है कि वे जानते थे कि सुभ्रर्ता की मां की मौत हो चुकी है लेकिन उनके अंतिम संस्कार को लेकर अनजान थे.



loading...