98 साल की उम्र में हुआ जिन्ना की बेटी का निधन, कभी पिता से की थी बगावत

2017-11-03_jinna54.jpg

दीना वाडिया एक स्वतंत्र विचारों वाली एक क्रांतिकारी बिटिया थीं, शायद यही वजह थी कि उनके अपने पिता मोहम्मद अली जिन्ना से कभी नहीं बनी. दीना वैसे तो पाकिस्तान के कायदे आजम मोहम्मद अली जिन्ना की इकलौती बेटी थी, जिनका गुरुवार को न्यूयॉर्क में निधन हो गया. वो 98 वर्ष की थीं.

बताते हैं कि दीना का अपने पिता से विचारधाराओं को लेकर वैचारिक मतभेद थे, जिसने बाप-बेटी को एक दूसरे से अलग कर दिया था कि देश के बंटवारे के बाद भी दीना कभी अपने पिता के पास पाकिस्तान नहीं गईं. बंटवारे के समय जिन्ना के साथ उनकी बहन फातिमा साथ गईं थीं, तब जब सभी ये जानते थे कि जिन्ना गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं और वो कभी भी इस दुनिया को अलविदा कह सकते हैं. 

दीना वाडिया भले ही पाकिस्तान के कायदे आजम की बेटी थीं, लेकिन वो पाकिस्तान सिर्फ 2 ही बार गईं थीं, एक पिता की मौत के बाद 1948 में और 2004 में. बाप बेटी के बीच रिश्तों में तनाव शुरू हुआ दीना की शादी के बाद जब उन्होंने पिता से कहा कि उन्हें नेवली से शादी करनी है, तो जिन्ना न दीना से कहा कि भारत में हजारों मुसलमान हैं लेकिन तुम्हें सिर्फ वही मिला?

इसपर दीना ने जवाब दिया था कि इस देश में भी तो हजारों मुस्लिम लड़कियां थीं, लेकिन आपको शादी करने के लिए मां ही मिलीं. दीना मां रती जिन्ना भी पारसी थीं और उनके निधन के समय दीना महज 10 साल की थीं.

बाप-बेटी के बीच की जुबानी जंग धीरे-धीरे एक दूसरे को बहुत दूर ले जा चुकी थी. जिन्ना की इकलौती बेटी ने ही उनकी धारणा को तोड़ 1938 में नेवली से शादी कर ली थी. लेकिन नेवली और दीना की शादी भी नहीं चली और दोनों के प्यार का अंत तलाक लेकर ही हुआ. तलाक के बाद दीना ने अपने पिता से नजदीकियां भी बढ़ाई और एक पत्र भी लिखा था. लेकिन अपने अकेलेपन से भागने के लिए उन्होंने अपना अगला आशियाना न्यूयॉर्क में बनाया और धीरे-धीरे वहां की होकर रह गईं.

दीना मुंबई में अपने पिता के बनाए मालाबार हिल के घर में रहना चाहती थीं, लेकिन उनकी सरकार और कोर्ट से लंबी लड़ाई के बाद भी उनकी ये मंशा पूरी नहीं हो सकी. उन्होंने वहां जाने की इजाजत तो थी. लेकिन रहने की नहीं. सरकार ने उसे कब्जे में लेते हुए उसे कल्चरल सेंटर में तब्दील कर दिया है.

दीना का जन्म 15 अगस्त 1919 को हुआ था और उनके जन्म से ठीक एक दिन पहले जिन्ना अपनी पत्नी के साथ थियेटर में फिल्म देख रहे थे.जिन्ना ने अपनी पत्नी और बेटी दोनों को छोड़ दिया था. दीना वाडिया के परिवार में वाडिया ग्रुप के चेयरमैन नुस्ली एन. वाडिया, बेटी डायना वाडिया और पोते नेस तथा जेह वाडिया हैं.



loading...