केदारनाथ: शुरू हुई भारी बर्फबारी, फंसे हरीश रावत संग 6 नेता और सैकड़ों श्रद्धालु लोग

2018-05-08_heavysnowfall.jpg

मंगलवार को बिगड़े मौसम और बर्फबारी ने केदारनाथ यात्रा में विघ्न डाल दिया. केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम में बीती रात से भारी बर्फबारी हो रही है. सभी रास्तों पर 2 से 3 इंच बर्फ जमा हो चुकी है. इस बर्फ़बारी में फंस गए कांग्रेस नेता. कांग्रेस नेता ने यहाँ केदारपुरी में भाजपा सरकार के विकास के दावों को परखने के लिए रविवार को यात्रा शुरू की थी. उत्तराखंड के पूर्व चीफ मिनिस्टर हरीश रावत समेत 6 कांग्रेस नेता भी सैकड़ों श्रद्धालुओं के साथ फंसे हुए हैं. 

रुद्रप्रयाग के डीएम मंगेश घिलडियाल ने बताया कि खराब मौसम के कारण केदारनाथ यात्रा पर गए सैकड़ों श्रद्धालुओं को रास्ते में रोका गया है. इसके अलावा एक दुखद घटना भी घटी है. यहाँ हार्ट अटैक से एक व्यक्ति मौत की सूचना है. 

इनमें राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा और स्थानीय विधायक मनोज रावत समेत करीब 6 कांग्रेस नेता शामिल हैं. बारिश के चलते हेलिकॉप्टर लैंड नहीं कर पा रहा है.

हरीश रावत ने कहा- यात्रा शुरू करते समय मुझे उत्सुकता थी कि ऑल वेदर रोड का नारा देने वालों ने अगस्तयमुनि से होकर गौरीकुंड तक जाने वाले रोड को सुधारा होगा. पर दुःख की बात है कि पिछले एक साल में यहां कोई काम नहीं हुआ. रास्ते में भारी कीचड़ है और प्रशासन ने इसके लिए कोई प्रबंध नहीं किया. कई महिलाएं शिकायत कर रही हैं कि यात्रा के मार्ग में उन्हें शौचालय नहीं मिल रहे हैं.

सरकार ने एहतियातन लिनचौली और भिम्बाली में श्रद्धालुओं को रोका है. उनसे कहा है कि मौसम सुधरने तक इंतजार करें. इसके बाद यात्रा फिर शुरू की जाएगी.
 



loading...