करतारपुर कॉरिडोर: भारत-पाक के बीच 'रचनात्मक' और 'सौहार्दपूर्ण' रही बातचीत, अब 2 अप्रैल को होगी अगली बैठक

Lok Sabha Eleciton 2019: भाजपा ने जारी की 11 उम्मीदवारों की एक और लिस्ट, कैराना से हुकुम सिंह की बेटी का टिकट कटा

सैम पित्रोदा के विवादित बयान पर अमित शाह ने कहा- जनता और जवानों से माफी मांगे राहुल गांधी

भारत के पहले लोकपाल बने जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिलाई शपथ

इमरान खान का ट्वीट, पाकिस्तान के नेशनल डे पर पीएम मोदी ने भेजा संदेश, भारत का जवाब, ये परंपरा का हिस्सा

पीएम नरेंद्र मोदी ने ब्लॉग लिखकर शहीदों और राम मनोहर लोहिया को किया याद, कांग्रेस पर बोला हमला

आतंकी हाफिज सईद के संगठन के खिलाफ NIA ने दाखिल की चार्जशीट, भारत में करते थे स्लीपर सेल की भर्ती

2019-03-14_IndoPakKartarpurCorridor.jpg

करतारपुर कॉरिडोर को लेकर आवश्यक विचार-विमर्श करने व महत्वपूर्ण फैसले लेने के लिए अटारी-वाघा बॉर्डर पर आज भारत और पाकिस्तान के बीच वार्ता हुई. इसके बाद दोनों देशों के प्रतिनिधियों का संयुक्त बयान सामने आया. इसमें बताया गया कि बेहद सौहार्दपूर्ण माहौल में दोनों देशों के बीच बैठक हुई.

इस बैठक में करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को दी जाने वाली सुविधाओं पर चर्चा हुई. दर्शन करने के लिए की जाने वाली व्यवस्थाओं पर भी बातचीत की गई. कॉरिडोर को लेकर पाकिस्तान सरकार और भारत सरकार द्वारा रखे गए प्रस्ताव पर भी विचार विमर्श किया गया. कुछ मुद्दों पर सहमति बनी है और कुछ पर विचार किया जाना है.

संयुक्त बयान में कहा गया कि दोनों देशों की तरफ से कॉरिडोर के निर्माण को लेकर तकनीकी विशेषज्ञों से भी बातचीत की गई. मुद्दे को लेकर अब अगली बैठक 2 अप्रैल 2019 को होगी. इस बीच दोनों देशों की सरकारों से बातचीत करके प्रस्ताव में शामिल किए गए प्रावधानों पर बात की जाएगी.



loading...