जानें क्यों मदद के लिए तैयार रहने वाली सुषमा स्वराज ने इस कश्मीरी छात्र को पहले किया मना, बाद में की मदद

2018-05-10_shusma-swaraj-jk.jpg

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने गुरुवार को ट्विटर पर कश्मीरी छात्र शेख अतीक को भूगोल का पाठ पढ़ाया। हुआ यूं कि फिलीपींस में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे एक कश्मीरी छात्र ने नए पासपोर्ट के लिए सुषमा से मदद मांगी थी। लेकिन उसकी प्रोफाइल पर लोकेशन 'भारत अधिकृत कश्मीर' लिखी थी। यह देखकर सुषमा ने सबसे पहले उसके पते पर आपत्ति जताई। इस पर स्टूडेंट ने अपनी प्रोफाइल में बदलाव किया, जिसे देख विदेश मंत्री ने प्रसन्नता जताई।

अतीक ने गुरुवार सुबह 6 बजे ट्वीट कर विदेश मंत्री से कहा, "मेरा पासपोर्ट डैमेज हो गया है। इस वजह से मैं भारत नहीं आ पा रहा हूं। मुझे मेडिकल चेकअप के लिए भारत आना है। मैंने एक महीने पहले इसके लिए आवेदन किया था, लेकिन अभी तक कोई जवाब नहीं आया। आप इस प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए मेरी मदद करें।"

सुषमा स्वराज ने छात्र के ट्वीट के जवाब में लिखा, अगर आप जम्मू-कश्मीर राज्य से हैं, तो हम निश्चित रूप से आपकी मदद करेंगे। लेकिन आपकी प्रोफाइल कहती है कि आप 'भारत अधिकृत कश्मीर' से हैं। ऐसा कोई स्थान नहीं है। स्वराज के ट्वीट के तुरंत बाद छात्र ने अपनी प्रोफाइल से 'भारत अधिकृत कश्मीर' हटा लिया। जिसके बाद स्वराज ने खुशी जाहिर करते हुए मनीला में भारतीय दूतावास से उसकी मदद करने के लिए कहा।

कश्मीर स्टूडेंट के प्रोफाइल में भारत अधिकृत कश्मीर लिखे जाने पर ट्विटर पर लोगों ने कड़ी आपत्ति जताई है। लोगों ने गुस्से में कई कमेंट किये, जिसके बाद अब इस यूजर्स ने अपना अकाउंट डिलीट कर दिया है।



loading...