महागठबंधन में पड़ी दरार, जीतन राम मांझी ने झारखंड और बिहार में अकेले चुनाव लड़ने का किया ऐलान

2019-11-08_JitanRamManjhi.jpg

बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले महागठबंधन में दरार पड़ती नजर आ रही है. राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी 'हम', कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) से नाराज हो गई है. ऐसे में पार्टी के मुखिया ने महागठबंधन से अलग होकर चुनाव लड़ने का फैसला लिया है. उन्होंने कहा कि 2020 के विधानसभा चुनाव उनकी पार्टी अपने दम पर चुनाव लड़ेगी.

पूर्व मुख्यमंत्री और हम पार्टी के मुखिया जीतन राम मांझी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और राजद के लोग खुद निर्णय लेकर हम पर थोपते हैं. उन्होंने कहा कि अब हम स्वतंत्र चुनाव लडेंगे. अगर महागठबंधन के दूसरे दलों को भ्रांति है तो वो भी हो चुनाव में दूर जाएगी. मांझी ने कहा, 'हमें अब महागठबंधन में विश्वास नहीं है, हमें दूसरे लोग कम आंक रहे हैं. हम अब उनसे दूरी बना कर रहेंगे.'

जीतन राम मांझी ने कहा कि बार-बार कहने के बाद भी महागठबंधन में कॉ-ऑर्डिनेशन कमेटी का गठन नहीं किया गया. जिससे गठबंधन के सहयोगियों में तालमेल का अभाव है. ऐसे में हमारे लिए अकेले चुनाव लड़ना ही बेहतर होगा. उन्‍होंने कहा कि झारखंड में होने वाले विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी स्वतंत्र रूप से अपने उम्मीदवार उतारेगी. झारखंड में उम्मीदवारों को लेकर 10 नवंबर को फैसला लिया जाएगा. उन्होंने बताया कि इस राज्य में चुनावी गतिविधियां संचालित करने के लिए संतोष कुमार सुमन को जिम्मेदारी सौंपी गई है.



loading...