जदयू के नेता नीरज कुमार ने मीसा भारती की तुलना ‘शूर्पणखा’ से की तो आग बबूला हुए तेज प्रताप

बिहार में नहीं थम रहा दिमागी बुखार का कहर, अब तक 144 बच्चों की मौत, झारखंड में भी अलर्ट जारी

बिहार में चमकी बुखार से मरने वालों की संख्या 128 हुई, पीड़ित बच्चों से मिलने SKMCH हॉस्पिटल पहुंचे सीएम नीतीश कुमार

बिहार में दिमागी बुखार से 126 मासूमों की मौत, केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन और बिहार स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ केस दर्ज

बिहार में नहीं थम रहा दिमागी बुखार का कहर, अब तक 100 बच्चों की मौत, झारखंड में भी अलर्ट जारी

बिहार में गर्मी का कहर जारी, लू से 2 दिनों में 143 मौतें, कई जिलों के स्कूल बंद

बिहार में दिमागी बुखार से अब तक 69 मरीजों की मौत, प्रशासन ने लीची से किया सावधान

2019-01-07_MishaBharti.jpg

बिहार में सत्ताधारी जदयू के प्रदेश प्रवक्ता नीरज कुमार द्वारा राजद प्रमुख लालू प्रसाद की बड़ी पुत्री और राज्यसभा सदस्य मीसा भारती की ‘शूर्पणखा’ से तुलना करने पर तेज प्रताप यादव ने नीरज पर निशाना साधा. नीरज ने रविवार को ट्वीट कर कहा ‘भरतमिलाप’ में भरत पूरे परिवार के साथ जंगल में राम को वापस लाने गए थे. परन्तु आज की स्थिति उलट है..आज न केवल छोटा भाई सत्ता पर काबिज है, बल्कि बड़े भाई को वन-वन घूमने को बाध्य किया गया. ‘शूर्पणखा’ को एक क्षेत्र के मालिक बनाने पर भी कोई राजी नहीं.

जदयू प्रवक्ता ने ट्वीट कर राजद प्रमुख लालू प्रसाद और उनसे मिलने वालों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि आज नेता सीट की चाहत में ताबड़तोड़ जेल जाकर दण्डवत कर रहे हैं. इन नेताओं को जेल में बंद भ्रष्टाचारी से याचना करने पर ‘सम्मान’ को ठेस नहीं लग रही? हद है…सत्ता भूख. अब तो ये नेता ‘भ्रष्टाचारी’ परिवार का झोला ढोने तक को तैयार हैं.

नीरज के बयान पर तेज प्रताप यादव ने उन्हें आडे़ हाथों लेते हुए कहा कि हम लोगों के सामने जदयू प्रवक्ताओं की कोई औकात है क्या. उन्होंने मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार से कहा कि वे अनाप-शनाप बकने वाले अपनी पार्टी के नेताओं पर लगाम लगाएं नहीं तो वे कानूनी कार्रवाई करेंगे. तेजप्रताप ने कहा कि अपनी हार के डर से विरोधी घबरा गए हैं इसलिए वे अनाप-शनाप बक रहे हैं.



loading...