ताज़ा खबर

जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में भाजपा नेता और उनके भाई की मौत के बाद इलाके में लगा कर्फ्यू, सेना तैनात

2018-11-02_Anil.jpg

जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में गुरुवार रात को आतंकियों ने बीजेपी के प्रदेश सचिव अनिल परिहार और उनके भाई अजीत परिहार की गोली मारकर हत्या कर दी. इसके बाद से ही इलाके में तनाव का माहौल है. घटना के बाद इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया. घटना के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन को देखते हुए आज दूसरे दिन भी कर्फ्यू में ढील न देने का फैसला लिया गया है. उधर, किश्तवाड़, डोडा और रामबन जिलों में एहतियातन इंटरनेट सेवा भी बंद करवा दी गई है. इसके अलावा जम्मू संभाग के बाकी सातों जिलों में हाई स्पीड इंटरनेट सर्विसेज पर रोक लगा दी गई है. इन जिलों में सिर्फ 2G सर्विस ही बहाल रखी गई है. 

आपको बता दें कि बीजेपी नेता अनिल परिहार और उनके भाई की हत्या की जांच के लिए किश्तवाड़ एडिशनल एसपी की अगुवाई में एसआईटी का गठन कर जांच शुरू कर दी गई है. दिवंगत नेता का अंतिम संस्कार शुक्रवार दोपहर 3 बजे के बाद किया जाएगा जिसमें जम्मू कश्मीर बीजेपी के कई बड़े नेता शामिल होंगे.

जानकारी के मुताबिक, गुरुवार रात करीब 8 बजे बीजेपी के प्रदेश सचिव अनिल परिहार अपनी दुकान से घर लौट रहे थे. इसी दौरान आतंकियों ने अनिल परिहार और उनके भाई अजीत परिहार को गोली मार दी. आतंकियों के इस हमले में बीजेपी नेता और उनके भाई की मौके पर ही मौत हो गई. हमले के बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. इस घटना में दो आतंकी शामिल बताए जा रहे हैं. 

बताया जा रहा है कि आतंकी पहले से ही घात लगाए बैठे थे. घटना के बाद आतंकी मौके से फरार हो गए. हमले के बाद किश्तवाड़ जिले में कर्फ्यू लगा दिया गया. परिहार की मौत पर शोक जताते हुए बीजेपी ने कहा कि अनिल और अजीत के हत्यारे आतंकियों से बदला लिया जाएगा. उन्होंने देश के लिए कुर्बानी दी है. उनकी कुर्बानी को व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा.

वहीं, पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने भी घटना पर शोक जताते हुए ट्विटर पर लिखा कि यह एक बुरी खबर है. मेरी संवेदनाएं अनिल और अजीत के परिवार के साथ हैं. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे.



loading...