ताज़ा खबर

आरक्षण जरुरी है?

2018-05-14_aarakshan.jpg

कभी सोचा था कि बांग्लादेश हमसे आगे निकल जायेगा किसी क्षेत्र में? कमाल कर दिया, शेख हसीना ने बहुत ताक़तवर फैसला लिया है. तारीफ़ लाज़मी है,  इसका असर भी जरूर दिखेगा. कोई हमारे यहाँ भी सुने, हिम्मत दिखाए तो बात बने. हमारी पीढ़ी यह अच्छे से समझती है कि वास्तव में मेरिट के सामने आरक्षण मायने नहीं रखता. बस ज़रा सा लालच छोड़ने की आवश्यकता है और कुछ नेताओं के द्वारा बेवकूफ बनने से बचना है. क्यूँ माँगने वाली मानसिकता लेकर बैठे हैं हम. जिनको आरक्षण मिला है वो यह त्यागकर उदाहरण प्रस्तुत करें. अपील है सबसे. क्यों दोस्तों, सही है कि नहीं? 

योगेंद्र खोखर



loading...