घुसपैठ की कोशिश करने वाला चीन अब आया लाइन पर, रोका सड़क निर्माण कार्य, भारत ने लौटाए जब्त सामान

अरुणाचल प्रदेश के पासीघाट पीएम मोदी ने कहा- आपके प्यार का ही परिणाम है आज गांव-गांव में सड़कें पहुंचाने का काम हो पाया

अरुणाचल प्रदेश के आलो में पीएम मोदी ने कांग्रेस पर बोला हमला, कहा- उनको आपकी भलाई की नहीं अपनी मलाई की चिंता है

अरूणाचल प्रदेश में राहुल गांधी ने कहा- कांग्रेस की सरकार बनी तो जीएसटी को जड़ से खत्म कर देंगे

अरुणाचल प्रदेश में PRC को लेकर बिगड़े हालात, 2 की मौत, सेना ने संभाला मोर्चा

अरुणाचल प्रदेश के ईटानगर में पीएम मोदी ने कहा- राज्य के हर घर तक बिजली पहुंची, पूरे देश में ऐसा विकास होगा

पूर्व पीएम अटल बिहारी की जयंती के मौके पर देश के सबसे लंबे रेल-रोड का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया उद्घाटन

2018-01-09_china-india-arunachal.jpg

अरुणाचल प्रदेश के टूटिंग इलाके में चीन के साथ चल रहा विवाद सुलझ गया है। चीन एसएसी (लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल) के पास सड़क निर्माण गतिविधियों को बंद करने पर राजी हो गया है। इसके साथ भारतीय सेना ने भी चीन का समाना लौटा दिया है। 

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा, "दो दिन पहले बॉर्डर पर्सनल मीटिंग (BPM) हुई थी और टूटिंग मुद्दा सुलझ गया है।" बिपिन रावत ने कहा कि डोकलाम सीमा पर भी चीन ने अपने सैनिकों की संख्या कम कर दी है।

जानकारी के मुताबिक, दो दिन पहले इस मसले पर भारत और चीन के बीच बार्डर पर्सनल मीटिंग हुई। इसी मीटिंग में विवाद का समाधान निकला और चीनी सैनिक अपनी मशीनें वापस ले गए। 

बता दें कि पिछले महीने चीनी सैनिक 200 मीटर तक अरुणाचल प्रदेश के रास्ते भारतीय सीमा में घुस आए थे। वह अपने साथ सड़क निर्माण का सामान लेकर आए थे, जिसमें दो खुदाई मशीन व अन्य सामान शामिल थे। 

हालांकि भारतीय सैनिकों ने चीनी सेना के अतिक्रमण कर सड़क बनाने के इरादे को नाकाम कर दिया था। भारतीय सैनिकों ने चीनी सैनिकों को बीच रास्ते में ही रोक दिया था और सड़क निर्माण का सामान जब्त कर लिया था।



loading...