IND VS SL : पहला टेस्ट कल, जडेजा-अश्विन में से एक को रहना पड़ सकता है बाहर

फीफा विश्व कप: फाइनल मुकाबले में क्रोएशिया हराकर दूसरी बार चैंपियन बना फ्रांस

इंग्लैंड की धरती पर कुलदीप यादव ने किया चमत्कार, तोड़ा पाकिस्तान का गुरुर

फीफा विश्व कप: दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में आज इंग्लैंड और क्रोएशिया होंगे आमने-सामने, फाइनल में फ्रांस से होगा मुकाबला

फीफा विश्व कप: सेमीफाइनल मुकाबले में आज फ्रांस और बेल्जियम होंगे आमने-सामने, एक भी मैच नहीं हारी दोनों टीमें

भारतीय महिला टी-20 की कप्तान हरमनप्रीत कौर की डिग्री है फर्जी, छिनी गई DSP की नौकरी

इंग्लैंड में T-20 सीरीज जीतने के बाद कप्तान विराट कोहली ने रोहित को नहीं बल्कि इस खिलाड़ी को दिया जीत का श्रेय

2017-11-15_test54.jpg

गुरुवार को भारत और श्रीलंका के बीच पहला टेस्ट मैच खेला जाएगा. रवींद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन की श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय प्लेइंग इलेवन में वापसी तय मानी जा रही थी. जडेजा इस वक्त दुनिया के दूसरे नंबर के और अश्विन चौथे नंबर के गेंदबाज हैं. लिहाजा भारतीय पिच पर टेस्ट मैच में इनका खेलना तय लग रहा था. लेकिन , पहले टेस्ट के वेन्यू ईडेन गार्डंस में जिस तरह की पिच तैयार की गई है उससे यही संकेत मिल रहे हैं कि इन दोनों में से किसी एक को ही टीम में शामिल किया जाएगा.

जानकारी के मुताबिक , तेज गेंदबाजों की मददगार पिच पर भारतीय टीम अक्सर 6-1-4 का कंबिनेशन अपनाती है. यानी, प्लेइंग इलेवन में 6 स्पेशलिस्ट बैट्समैन, एक विकेटकीपर और 4 बॉलर रखे जाते हैं. चार गेंदबाजों में तीन पेसर और एक स्पिनर होते हैं. यही कंबिनेशन कोलकाता में आजमाया गया तो जडेजा और अश्विन में से एक का बाहर बैठना तय हो जाएगा.

वहीं, हार्दिक पंड्या को आराम दिया गया है. अगरवे टीम में होते तो जडेजा-अश्विन दोनों को मौका देना आसान हो जाता. पंड्या तीसरे पेसर की भूमिका निभाते और छठे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भी उतरते.

अब कप्तान कोहली के पास 2 विकल्प हैं. या तो पांच स्पेशलिस्ट बैट्समैन खेलें और 3 तेज बॉलर और 2 स्पिनर. ऐसा होने पर जडेजा और अश्विन दोनों खेल पाएंगे. दूसरा विकल्प फिर 6-1-4 का कंबिनेशन ही बचता है.



loading...