दुनिया में सबसे ज्यादा हथियार खरीदने वाला देश बना भारत, चीन 5 बड़े सप्‍लायर्स देशों में शामिल

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के बयान का लश्कर-ए-तैयबा ने किया समर्थन, भाजपा ने सोनिया और राहुल गांधी से माँगा जवाब

कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज के बयान पर सुब्रमण्यम स्वामी ने दिया करारा जवाब, कहा- मुशर्रफ को पसंद करने वालों को पाकिस्तान भेजेंगे

जस्टिस चेलमेश्वर आज सुप्रीम कोर्ट से हो जायेंगे रिटायर, कोलेजियम में बड़ा बदलाव

नोटबंदी के दौरान सबसे ज्यादा पुराने नोट जिस बैंक में जमा हुए उसके निदेशक हैं अमित शाह, आरटीआई से खुलासा

अलकायदा, आईएस के नए संगठनों पर मोदी सरकार ने लगाया प्रतिबंध

नौकरी के नाम पर UP के युवाओं से घाटी में पत्थरबाजी के लिए बनाया दबाव, जान बचाकर लौटे युवक

2018-03-13_atom52.jpg

हथियार खरीदने के मामले में भारत दुनिया में टॉप पर बना हुआ है. यह खुलासा सोमवार को स्टॉकहोम के थिंक टैंक इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट की एक रिपोर्ट में हुआ है. सोमवार को जारी इस रिपोर्ट के मुताबिक , भारत ने 2013-2017 के दौरान दुनिया में सबसे ज्यादा हथियार खरीदे हैं. इस मामले में दुनिया में उसकी हिस्सेदारी 12% है. 

रिपोर्ट के मुताबिक, 2008 से 2013 की तुलना में भारत ने 2013 से 2017 के बीच 24% ज्यादा हथियार खरीदे हैं. इस रिपोर्ट में भारत के बाद सबसे ज्यादा हथियार खरीदने वालों में सऊदी अरब, मिस्र, यूएई, चीन, ऑस्ट्रेलिया, अल्जीरिया, इराक, पाकिस्तान और इंडोनेशिया हैं.

भारत ने 2013 से 2017 तक सबसे ज्यादा हथियार रूस से खरीदे. कुल खरीदे गए हथियारों में रूस की हिस्सेदारी 62% है. इसके बाद भारत ने अमेरिका से 15% और इजरायल से 11% हथियार खरीदे हैं.

एशिया में चीन का दबदबा कम करने के लिए अमेरिका भारत के साथ दे रहा है. जिसका नतीजा है कि 2008 से 2012 की तुलना में 2013 से 2017 तक में भारत ने अमेरिका से काफी हथियार खरीदे हैं. इस दौरान अमेरिका से भारत के हथियारों की खरीद में लगभग 557% की बढ़ोत्तरी हुई है.

वहीं, हथियार बेचने वाले देशों में अमेरिका टॉप पर है. इसके बाद रूस, फ्रांस और जर्मनी हैं. चीन पांचवे नंबर पर है. चीन सबसे ज्यादा हथियार पाकिस्तान को बेचता है.



loading...