दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत के 16 ठिकानों पर इनकम टैक्स की छापेमारी

केजरीवाल के मुस्लिम वोटर वाले बयान पर शीला दीक्षित का पलटवार, कहा- लोग जिसे चाहें उसे दे सकते हैं वोट

बोफोर्स घोटाला: सीबीआई ने आगे की जांच से जुडी याचिका वापस ली, 6 जुलाई को होगी अगली सुनवाई

दिल्ली-एनसीआर में बारिश के बाद सुहाना हुआ मौसम, कई इलाकों में पानी भरा, लोगों को गर्मी से मिली राहत

दिल्ली में बेटी के साथ हुई छेड़छाड़ का विरोध करने पर पिता और भाई पर चाकुओं से हमला, पिता की मौत

प्रेस कांफ्रेंस में रो पड़ीं आप उम्मीदवार आतिशी, कहा- गौतम गंभीर ने उनके खिलाफ बंटवाए अभद्र भाषा वाले पर्चे

लोकसभा चुनाव: उत्तर पूर्वी दिल्ली से कांग्रेस उम्मीदवार शीला दीक्षित के लिए प्रियंका वाड्रा का रोड शो जारी

2018-10-10_AshokGahlaut.jpg

आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत के घर समेत 16 ठिकानों पर बुधवार सुबह आयकर विभाग ने छापेमारी की. बताया जा रहा है कि कैलाश गहलोत के घर यह छापेमारी इनकम रिटर्न्स को लेकर की गई है. कैलाश गहलोत के घर पर हुई छापेमारी के बाद दिल्ली में एक बार फिर राजनीतिक सरगमियां तेज हो गई है.

अधिकारियों ने बताया कि कैलाश गहलोत के राष्ट्रीय राजधानी और आसपास के कम से कम 16 परिसरों पर करीब 30 अधिकारियों की टीम छापेमारी कर रही है. उन्होंने बताया कि मंत्री और अन्य लोगों से जुड़े दो विनिर्माण फर्मों के खिलाफ कर चोरी की जांच के सिलसिले में यह कारवाई की जा रही है. 

नजफगढ़ विधानसभा क्षेत्र से विधायक गहलोत दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार में परिवहन, कानून और राजस्व मंत्री हैं. चुनाव के दौरान अपनी संपत्ति का जो ब्योरा दिया था, उसके मुताबिक उनके पास करीब 37 करोड़ रुपए की चल-अचल संपत्ति है. कैलाश पेशे से वकील भी रह चुके हैं.

आयकर विभाग की छापेमारी के तुंरत बाद आम आमदी पार्टी ने ट्वीट कर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. आम आदमी पार्टी की ओर से कहा गया है कि यह एक राजनीतिक एजेंडा को पूरा करने के लिए की जा रही छापेमारी है. आम आदमी पार्टी ने अपने ट्विटर पर लिखा, हम जनता को सस्ती बिजली दे रहे, मुफ्त पानी दे रहे, अच्छी शिक्षा-स्वास्थ्य व्यवस्था दे रहे, सरकारी सेवाएं घर-घर तक पहुंचा रहे और वो CBI, ED से हमारे मंत्रियों-नेताओं के घर छापे पड़वा रहे. जनता सब देख रही है, 2019 में सारा हिसाब एक साथ करेगी!

केजरीवाल ने ट्वीट किया, नीरव मोदी और माल्या से दोस्ती और हम पर छापेमारी? मोदीजी आपने मुझ पर, सत्येंद्र और मनीष पर छापे पड़वाए, उनका (छापों का) क्या हुआ? इनमें कुछ नहीं निकला. इसलिए आप एक और छापेमारी से पहले दिल्ली के लोगों द्वारा चुनी गई सरकार को परेशान करने के लिए उनसे माफी मांग लें.



loading...