पीएम की शपथ लेने से पहले करप्शन के आरोप पर जवाब देंगे इमरान खान

अमेरिका ने दूसरे देशों के छात्रों के लिए पॉलिसी सख्त की, नियम तोड़ने के अगले दिन से गैरकानूनी माना जाएगा प्रवास

वॉशिंगटन के इंटरनेशनल एयरपोर्ट से अलास्का एयरलाइंस के कर्मचारी ने प्लेन चुरा लिया, आईलैंड पर क्रैश हुआ

इंडोनेशिया: एशियाई खेलों के दौरान ट्रैफिक की समस्या से निपटने के लिए 15 दिन बंद रहेंगे जकार्ता के 70 स्कूल

अमेरिका में भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास की हत्या के जुर्म में पूर्व नौसैनिक को 60 साल की सजा

अफगानिस्तान में तालिबानी आतंकी हमले में चार महिलाओं समेत 12 लोगों की मौत, मुठभेड़ जारी

वॉलमार्ट ने 6 साल के बच्चे रायन से की डील, इस काम के लिए फोर्ब्स लिस्ट में आ चुका है नाम

2018-08-07_ImranKhanCurraption.jpg

इमरान खान ने पाकिस्तान में भ्रष्टाचार को मुद्दा बनाकर आम चुनाव जीता था. अब प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने से पहले वे करप्शन के एक मामले में भ्रष्टाचार विरोधी एजेंसी के सामने पेश होंगे. उन पर सरकारी हेलिकॉप्टर के निजी इस्तेमाल का आरोप है, जिससे खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के खजाने को 21.7 लाख रुपए का नुकसान हुआ था. इस मामले में नेशनल अकाउंटबिलिटी ब्यूरो (नैब) ने इमरान को दो बार समन भेजा था. चुनाव प्रचार के चलते वे पेश नहीं हो पाए थे. उनके वकील ने अपील की थी कि केस की तारीख आम चुनाव के बाद 7 अगस्त कर दी जाए.

इमरान ने 2013 में खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में सरकार बनाई थी. आरोप है कि उस दौरान इमरान ने सरकारी हेलिकॉप्टर को 72 घंटे तक इस्तेमाल किया. इसी मामले में एनएबी ने उनसे जवाब मांगा है. वे निजी इस्तेमाल के लिए सरकारी हेलिकॉप्टर नहीं ले जा सकते थे. एजेंसी का आरोप है कि निजी इस्तेमाल के चलते सरकारी खजाने को नुकसान हुआ.

इमरान ने इसे राजनीतिक साजिश करार दिया. उनका कहना है, मैंने कुछ भी गलत नहीं किया. पीटीआई के सूत्रों ने बताया कि इमरान मंगलवार को जांच टीम के सामने पेश होंगे. इसके बाद स्थानीय नेताओं के साथ पेशावर में मीटिंग करेंगे. अनुमान है कि वे खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में मुख्यमंत्री पद के लिए पार्टी के दावेदार की घोषणा भी कर सकते हैं.



loading...