ताज़ा खबर

कश्मीर मुद्दे पर पाक पीएम इमरान खान ने मानी हार, दिया ये बड़ा बयान

2019-09-25_ImranKhan.jpg

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने आखिरकार कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने में नाकाम रहने की बात कबूल ली. उन्होंने इसका ठीकरा विश्व के नेताओं के सिर पर फोड़ा. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के विवादित प्रावधानों को हटाने के भारत सरकार के फैसले को पाक ने कई अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठाने की नाकाम कोशिश की.

इमरान खान ने अमेरिका में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि मैं अंतरराष्ट्रीय समुदाय से निराश हूं. अगर 80 लाख यूरोपियन या यहूदी या सिर्फ 8 अमेरिकी ही कहीं फंसे होते तो क्या वैश्विक नेताओं का रवैया ऐसा होता? उन्होंने कहा कि मोदी पर अब तक प्रतिबंध खत्म करने का कोई दबाव नहीं बनाया गया है, लेकिन हम उन पर दबाव बनाना जारी रखेंगे. 9 लाख से ज्यादा सेना कश्मीर में क्या कर रही है? एक बार कर्फ्यू खत्म हो गया तो न जाने वहां क्या होगा. आपको लगता है कश्मीरी चुपचाप बैठेंगे?.

इमरान ने कहा कि दुनिया भारत को 130 करोड़ लोगों का बाजार होने के कारण प्राथमिकता देती है. लेकिन हम अपनी लड़ाई जारी रखेंगे. दुनिया के कश्मीर मु्द्दे पर न बोलने के पीछे भारत की आर्थिक स्थिति और वैश्विक प्रमुखता कारक हैं.

जेनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद की बैठक के दौरान भी कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान भारत के हाथों मात खा चुका है. कश्मीर पर प्रस्ताव लाने के लिए पाकिस्तान को जरुरी देशों का समर्थन तक नहीं मिल पाया. यहां तक कि इस्लामिक कोऑपरेशन आर्गनाइजेशन जिसका पाकिस्तान संस्थापक सदस्य है उसने भी कश्मीर मुद्दे पर भारत का साथ दिया.



loading...