मंडला की कलेक्टर सूफिया फारूखी ने सिर पर रखीं आदि शंकराचार्य की चरण पादुकाएं, शूरा कमेटी से की गई शिकायत

मध्य प्रदेश: शिवराज सरकार 30 हजार शिक्षकों की करेगी भर्ती, 15 अगस्त से शुरू होगी प्रक्रिया

मध्य प्रदेश में सीएम उम्मीदवार को लेकर कांग्रेस में पोस्टर वार, सत्यव्रत चतुर्वेदी ने कहा- ज्योतिरादित्य सिंधिया हों चेहरा

मध्य प्रदेश: जबलपुर में डीजल चोरी के आरोप में 3 आदिवासियों की निंर्वस्त्र कर पिटाई, Video वायरल

मध्य प्रदेश: ड्यूटी पर नहीं आया युवक तो मालिक ने खंभे से बांधकर कोड़े से पीटा

सीएम शिवराज ने CJI को लिखी चिट्ठी, कहा- बच्चियों से बलात्कार के मामले में नंबर एक है मध्य प्रदेश

भय्यूजी महाराज की आत्महत्या का राज खोल सकती है 11 पन्नों की गुमनाम चिट्टी, डीआईजी ने दिए जांच के आदेश

2018-01-06_shankra5.jpg

मध्य प्रदेश में आदि शंकराचार्य की प्रतिमा के लिए धातु संग्रहण और जनजागरण अभियान के लिए एकात्म यात्रा चल रही है. यात्रा के चाबी गांव पहुंचने पर कलेक्टर सूफिया फारूखी ने शंकराचार्य की चरण पादुकाओं का पूजन किया और उन्हें सिर पर रखकर यात्रा की. इस पर मुस्लिम धर्मगुरुओं को कलेक्टर का ये कदम नागवार गुज़रा है, और इसकी शिकायत शूरा कमेटी से की गई है. इधर कांग्रेस को लगता है कि ये सिविल सेवा आचरण का उल्लंघन है, वहीं बीजेपी इसे सद्भावना बता रही है.

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के ओंकारेश्वर में आदि शंकराचार्य की विशाल प्रतिमा स्थापित करने के लिए गांव-गांव से धातु संग्रह किया जा रहा है.

इसको लेकर विभिन्न हिस्सों से 'एकात्म यात्रा' की शुरुआत हुई. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उज्जैन में इस यात्रा को शुरू करते हुए कहा था कि आदि शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित कर उनके योगदान को चिरस्मरणीय बनाया जाएगा. चौहान ने कहा कि ओंकारेश्वर में प्रतिमा तो स्थापित होगी ही, साथ ही यह वेदांत दर्शन के अद्भुत केंद्र के रूप में स्थापित होगा.
 



loading...