ताज़ा खबर

मेघालय में खदान में फंसे खनिकों को बचाने का अभियान तेज, वायुसेना ने राहत कार्य के लिए सुपर हरक्यूलिस को उतारा

मेघालय: 200 फीट गहरी खदान में फंसे खनिकों में से नौसेना ने 1 शव निकाला, नैवी और NDRF का बचाव अभियान जारी

मेघालय: खदान में फंसे 15 मजदूरों का 18 दिन बाद भी नहीं मिला कोई सुराग, भारतीय नौसेना और NDRF का बचाव अभियान जारी

राहुल गांधी ने खदान में फंसे खनिकों को बचाने के बहाने PM मोदी पर साधा निशाना, फोटो न खिंचवाकर उन्हें बचाएं

मेघालय में 13 मजदूर कोयला खदान में फंसे, सीएम संगमा बोले- हालात बेहद नाजुक, सभी को सुरक्षित बचाना मुश्किल

मेघालय में कर्नाटक की तरह बना सकती है कांग्रेस अपनी सरकार, कर सकती है दावा पेश, उपचुनाव में मारी बाज़ी

मेघालय में NDA की सरकार, कोनराड संगमा ने ली CM पद की शपथ, राजनाथ-शाह हुए समारोह में शामिल

2018-12-28_Miners.jpg

मेघालय की एक खदान में पिछले 15 दिनों से फंसे मजदूरों को बचाने की कवायद जारी है. एनडीआरएफ ने उच्च शक्ति वाले पंप की मांग की है क्योंकि राहत कार्य के लिए 25 हॉर्स पावर के पंप पर्याप्त साबित नहीं हो पा रहे हैं. पास की नदी से खदान से पानी भर रहा है, जिससे दुर्गंध की स्थिति है. एनडीआरएफ को इसलिए भी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है.

बचाव कार्य अपने तीसरे हफ्ते में है और अब भारतीय वायु सेना ने राहत कार्य में सुपर हरक्यूलिस को उतार दिया है. भारी सामानों को ले जाने में सक्षम इस विमान ने ओडिशा से असम के लिए उड़ान भरी है. सुपर हरक्यूलिस विमान ओडिशा फायर सर्विस के भारी उपकरणों को अपने साथ ले जा रहा है. गुवाहाटी एयरपोर्ट से पूर्वी जयंतिया हिल्स तक इन उपकरणों को कैसे ले जाया जाएगा यह भी एक चुनौती है. माना जा रहा है कि उपकरणों को हेलीकाप्टर से एयरलिफ्ट करके या सड़क मार्ग से 230 किमी दूर ले जाया जाएगा.

तीन हफ्ते बाद एनडीआरएफ के निवेदन पर वायु सेना ने इस बचाव मिशन में हिस्सा लेने का फैसला किया है. सूत्रों के मुताबिक पूर्वी जयंतिया हिल्स के जिलाधिकारी को सरकार से शक्तिशाली उपकरणों की मांग करने में एक हफ्ते का समय लग गया. कोल इंडिया भी इस बचाव कार्य में एक हफ्ते बाद शामिल हुआ. 
कोल इंडिया पश्चिम बंगाल के आसनसोल और झारखंड के धनबाद से उच्च क्षमता वाले वाले पंप भेज रहा है. यह पंप कोल इंडिया के असम स्थित खदानों में भी नहीं है. इन्हें सड़क मार्ग से पहुंचाया जा रहा है.
 
पंप उत्पादन करने वाली दिग्गज कंपनी किर्लोस्कर ब्रदर्स लिमिटेड ने मदद की पेशकश की है. कंपनी ने खदान से पानी निकालने में जरूरी उपकरण उपलब्ध कराने को कहा है. जुलाई में थाईलैंड में 12 बच्चों को खदान से निकालने के अभियान में भी कंपनी ने बड़ी भूमिका निभाई थी.


 



loading...