ताज़ा खबर

हैदराबाद में हैवानियत से पूरे देश में उबाल, आरोपियों को तुरंत फांसी देने की मांग, वकील नहीं लड़ेंगे केस

हैदराबाद एनकाउंटर के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर, पुलिसकर्मियों के खिलाफ FIR, जांच और कार्रवाई की मांग

हैदराबाद एनकाउंटर पर ज्वाला गुट्टा ने उठाए सवाल, पूछा- क्या एनकाउंटर करने के बाद भविष्य में बलात्कार नहीं होंगे

हैदराबाद रेप-मर्डर केस: जिस फ्लाईओवर के नीचे हुई हैवानियत, पुलिस ने एनकाउंटर में वहीँ ढेर किए चारों आरोपी

हैदराबाद कांड: आरोपियों के एनकाउंटर पर बोले पीड़िता के पिता- अब मेरी बेटी की आत्मा को शांति मिलेगी

हैदराबाद कांड: आरोपियों ने जान-बूझकर पंचर की थी महिला डॉक्टर की स्कूटी, मदद के बहाने वारदात को दिया था अंजाम

हैदराबाद कांड: महिला डॉक्टर से रेप और हत्या के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग, कोर्ट ने चारों आरोपियों को 14 दिन के लिए जेल भेजा

2019-11-30_Hyderabd.jpg

हैदराबाद में 22 साल की पशु चिकित्सक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामले में गिरफ्तार किए गए चारों आरोपियों का केस कोई भी वकील नहीं लड़ेगा. स्‍थानीय वकीलों ने फैसला किया है कि चारों आरोपियों को किसी भी वकील द्वारा कानूनी सहायता प्रदान नहीं की जाएगी. आज आरोपियों को अदालत में पेश किया जाएगा.

अदालत में पेशी से पहले चारों आरोपियों को शादनगर पुलिस स्‍टेशन में रखा गया है. इस घटना से नाराज लोग शनिवार सुबह बड़ी तादात में पुलिस स्‍टेशन के बाहर इकट्ठा हो गए और उन्‍होंने जमकर विरोध प्रदर्शन किया और उन्‍होंने आरोपियों को तुरंत फांसी दिए जाने की मांग की. प्रदर्शनकारी जमकर नारेबाजी करते रहे. प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए भारी संख्‍या में पुलिसबल मौके पर तैनात किया गया. महबूबनगर जिला बार एसोसिएशन ने इस घटना की कड़ी निंदा की और अपनी बिरादरी से आरोपियों की मदद नहीं करने के लिए कहा है.

उल्‍लेखनीय है कि साइबराबाद पुलिस ने बुधवार को 22 साल की पशु चिकित्सक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामले में शुक्रवार को चार संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया था. हिरासत में लिए गए लोगों में एक ट्रक ड्राइवर और एक क्लीनर शामिल हैं. पुलिस को अंदेशा है कि आरोपियों ने युवती लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और बाद में गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी और शव को जला दिया.



loading...