उत्तराखंड: पिथौरागढ़ में मूसलाधार बारिश से भारी नुकसान, हाइड्रो प्रोजेक्ट बहा, दर्जनों मकान ढहे

दिल्ली में भारी बारिश की वजह से संसद भवन परिसर में भरा पानी, उत्तराखंड में बादल फटने से 2 की मौत

उत्तराखंड के टिहरी में बड़ा हादसा, गहरी खाई में बस गिरने से 14 लोगों की मौत, 18 घायल, सीएम ने दिए जांच के आदेश

उत्तराखंड: चमोली में बरसी आसमानी आफत, बादल फटने से कई दुकानें और गाड़ियां क्षतिग्रस्त, भारी बारिश की चेतावनी

उत्तराखंड: पिथौरागढ़ में 4 दिन से भारी बारिश, 45 गांवो का संपर्क टूटा, 16 राज्यों में अलर्ट

उत्तराखंड के पौड़ी-गढ़वाल में बस के गहरी खाई में गिरने से 48 की मौत, हादसे की असली वजह आई सामने

जनता दरबार में बुजुर्ग शिक्षिका ने मांगा ट्रांसफर, वाद-विवाद के बीच भड़के सीएम ने कर दिया सस्पेंड

2018-07-03_Pithoragarh.jpg

उत्तराखंड में पिथौरागढ़ जिले के बागापानी और मुनस्यारी क्षेत्रों में हुई भारी बारिश से दो दर्जन से अधिक मकान बुरी तरह प्रभावित हुए. पिथौरागढ़ के डीएम सी रविशंकर ने बताया कि बारिश के कारण मुनस्यारी जाने वाले मार्ग क्षतिग्रस्त हो गये, लकड़ी के कुछ पुल बह गये और बागापानी और मुनस्यारी क्षेत्रों में कई मकान प्रभावित हुए और उन्हें नुकसान पहुंचा. बारिश से पिथौरागढ़ में एक व्यमक्ति की मौत हो गई है. उधर, मौसम विभाग ने पिथौरागढ़, चंपावत, नैनीताल और उधमसिंह नगर के कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश की चेतावनी जारी की है.

जिलाधिकारी के अनुसार, पिछले दो दिनों से हो रही लगातार बारिश के बाद सोमवार आधी रात को स्थानीय बरसाती नदियों, जैसे बालूखोल्टा और सिडनली में उफान आ गया और मुनस्यारी शहर में मकानों को क्षति पहुंची. उन्होंने कहा कि रात आधी रात के बाद 1:50 बजे से हमारी टीमें सक्रिय हैं और वे राहत और बचाव कार्य में लगी हैं. हालांकि, नुकसान के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि नुकसान का आकलन किया जा रहा है और जल्द ही उसकी रिपोर्ट आ जायेगी. उधर, सरकार की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि पिथौरागढ़ जिले के बंगापानी तहसील के गांव गैला पत्थकरकोट की नारायणी देवी पत्नीा स्वबर्गीय नंदन सिंह के ऊपर पत्थ‍र गिरने से मौत हो गई.

मुनस्यारी के उपजिलाधिकारी एसएन गोस्वामी ने बताया कि बारिश के कारण खराब हुए हालात से निपटने के लिए 17 से ज्यादा टीमें राहत और बचाव अभियान में लगी हैं और इनमें से नौ टीमें अकेले मुनस्यारी में ही हैं. गोस्वामी ने कहा कि हमने मुनस्यारी—थल मोटर मार्ग पर सड़क साफ करने के लिए रात ढाई बजे से दो जेसीबी लगा दी हैं और आज शाम तक यह मार्ग साफ हो जायेगा. उन्होंने बताया कि बारिश से एक निजी कंपनी के पांच मेगावाट के पनबिजली घर को भी कुछ नुकसान हुआ है जबकि भारी बारिश से उफनाई गौरी नदी में स्थानीय व्यापारियों के दो वाहन भी बह गये.

मौसम विभाग ने आज मंगलवार को कुमाऊं मण्डल में भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया है. उत्तऊराखंड के जनपद पिथौरागढ़, चंपावत, नैनीताल और उधमसिंह नगर के कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है. प्रदेश के मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने एडवाइजरी जारी कर इन जनपदों के जिलाधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं. खासतौर से मानसरोवर यात्रियों को सजग रहने और जिला प्रशासन से समन्वय बनाये रखने की सलाह दी गई है. आपदा प्रबंधन और एसडीआरएफ को भी हिदायत दी गई है कि एहतियात के तौर पर किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहें.



loading...